spo1मोहाली,  अब तक उतार-चढ़ाव वाले दौर से गुजरने के कारण बैकफुट पर पहुंची ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान की टीमें आईसीसी विश्व टी20 में कल यहां जब आमने सामने होंगी तो उनके लिए यह करो या मरो जैसा होगा.

ऑस्ट्रेलिया हालांकि कुछ बेहतर स्थिति में है लेकिन एक हार से उसकी स्थिति खराब हो जाएगी. पाकिस्तान को अब तक टूर्नामेंट में संघर्ष करना पड़ा है लेकिन ऑस्ट्रेलिया उन्हें हल्के से लेने के मूड में नहीं है. पाकिस्तान ने तीन मैचों में दो मैच गंवाए हैं और उसकी सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें धूमिल पड़ गई हैं. पाकिस्तान के कोच वकार यूनिस का भी मानना है कि टीम जिस तरह से खेल रही है उसे देखते हुए वह सेमीफाइनल में पहुंचने की हकदार नहीं है.

ऑस्ट्रेलिया की अपनी समस्याएं हैं. न्यूजीलैंड से हारने के बाद उसे बांग्लादेश के खिलाफ भी जीत दर्ज करने के लिए जूझना पड़ा. कल ऑस्ट्रेलिया की जीत से पाकिस्तान निश्चित तौर पर बाहर हो जाएगा और ऐसे में वह भारत के खिलाफ अपना अंतिम लीग मैच क्वार्टर फाइनल की तरह खेलेगा क्योंकि ग्रुप से न्यूजीलैंड पहले ही क्वालीफाई कर चुका है. पिछले दो मैचों में ऑस्ट्रेलिया अनुकूल प्रदर्शन नहीं कर पाया.

न्यूजीलैंड के खिलाफ उसके बल्लेबाज अपेक्षाकृत कम लक्ष्य के सामने लडख़ड़ा गए जबकि बांग्लादेश के खिलाफ तीन विकेट से जीत दर्ज करने के लिए उसे आखिर तक जूझना पड़ा. ऑस्ट्रेलिया के लिए ख्वाजा के अलावा लेग स्पिनर एडम जंपा का प्रदर्शन सकारात्मक संकेत है जिन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ तीन विकेट लिए थे. जहां तक पाकिस्तान का सवाल है तो उसकी कई चिंताएं हैं. वकार ने बल्लेबाजों की जरूरत पडऩे पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने के लिए कड़ी आलोचना की. पीसीबी भी घोषणा कर चुका है कि विश्व टी20 के बाद शाहिद अफरीदी को कप्तान पद से हटा दिया जाएगा. पाकिस्तान कल हार जाता है तो इससे अफरीदी का लंबा अंतरराष्ट्रीय करियर भी समाप्त हो सकता है.

Related Posts: