मुंबई,   महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के 7 में से 6 पार्षदों के पार्टी छोड़कर शिवसेना का दामन थामने के बाद पहली बार मीडिया से मुखातिब हुए राज ठाकरे ने उद्धव ठाकरे पर बीएमसी में ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया.

राज ने इस दौरान कहा कि जो हुआ है उसे वह कभी भूलेंगे नहीं. राज ठाकरे ने कहा कि उन्हें पार्टी छोडऩे वाले पार्षदों के इरादों के बारे में एक महीने पहले ही पता चल गया था. साथ ही उन्हें यह भी पता था कि पार्षदों को 5 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं. उन्होंने कहा, पैसे फेंके गए और पार्षदों को खरीद लिया गया.

अगर उन्हें शिवसेना में जाना था तो सीधे चले जाते. सोशल मीडिया पर अफवाह है कि मैंने खुद इन पार्षदों को भेजा है लेकिन अगर मुझे भेजना होता तो मैं सभी 7 को भेजता. उन्होंने कहा, मैंने शिवसेना छोडऩे से पहले बालासाहब ठाकरे को बता दिया था. मैंने न अब तक ऐसी राजनीति की है और न कभी करूंगा. मैंने उद्धव ठाकरे की ओछी राजनीति से परेशान होकर पार्टा छोडऩे का फैसला किया था.