Barak Obamaवाशिंगटन, 9 जून. अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के खिलाफ यमन में ड्रोन हमले में मारे गये दो लोगों के परिजनों ने मुकदमा दर्ज किया है. यमन में वर्ष 2012 में अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे गये सलीम बिन अली जबेर और वलीद बिन अली जबेर के परिजनों ने रविवार को कोलंबिया जिला अदालत में श्री ओबामा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया.

उन्होंने अपनी शिकायत में कहा कि अमेरिकी ड्रोन विमानों ने यमन में अपराधियों के संदेह में गलती से इन दोनों पर घातक हमला किया जिसमें उनकी मौत हो गयी. सलीम (43) इमाम का काम करते थे और अल कायदा एवं अन्य आतंकवादी संगठनों के खिलाफ उपदेश देते थे. उनका रिश्तेदार वलीद (26) स्थानीय यातायात पुलिस अधिकारी के तौर पर काम करता था. वे दोनों खशामीर कस्बे में जिन तीन लोगों से मिलने गये थे उन पर ड्रोन विमानों ने हमला कर दिया. इस हमले सलीम और वलीद भी मारे गए.

हमले के कुछ घंटों बाद मृतकों के परिजनों को जानकारी मिली कि सरकारी अधिकारियों को पता चल गया है कि सलीम और वलीद निर्दोष थे और गलती से मारे गये हैं लेकिन अधिकारियों ने सार्वजनिक तौर पर इसे स्वीकार करने से इंकार कर दिया.

Related Posts: