karkaparअहमदाबाद,  गुजरात के सूरत जिले में मौजूद ककरापार परमाणु ऊर्जा स्टेशन (केएपीएस) में लीक के बाद यहां की 2 में से एक यूनिट को शुक्रवार को बंद कर दिया गया.

लीक की सूचना मिलने के बाद थोड़े वक्त के लिए इमर्जेंसी की घोषणा भी की गई, लेकिन बाद में बताया गया कि रेडियोऐक्टिव लीक नहीं हुआ. स्टेशन में काम करने वाले सभी लोग सुरक्षित हैं.

अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब 9 बजे न्यूक्लियर रिएक्टर की गर्मी को नियंत्रित रखने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले हेवी वॉटर के लीक होने का पता चला. इसे थोड़ी देर में ही ठीक कर लिया गया, जिसके बाद अस्थायी तौर पर घोषित की गई इमर्जेंसी भी हटा ली गई.

सूरत के जिलाधिकारी राजेंद्र कुमार ने बताया कि प्लांट से किसी भी तरह का रेडियो ऐक्टिव रिसाव नहीं हुआ है. उन्होंने बताया कि हालात पूरी तरह से नियंत्रण में हैं. केएपीएस के साइट डायरेक्टर एलके जैन ने भी एक बयान जारी कर कहा कि प्लांट के अंदर और बाहर, रेडिएशन का स्तर सामान्य है.

Related Posts: