कटनी,  मध्यप्रदेश के कटनी जिले के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक (एसपी) गौरव तिवारी के स्थानांतरण के विरोध में पिछले एक सप्ताह से जारी विरोध प्रदर्शन के बीच आज मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने रेल रोको आंदोलन के तहत गिरफ्तारियां दीं।

आंदोलन में कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक सुंदरलाल तिवारी और युवा विधायक जीतू पटवारी शामिल हुए। वहीं रेल रोको आंदोलन को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने जिला मुख्यालय और आसपास के संवेदनशील इलाकों पर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए। कटनी नगर में स्थान-स्थान पर अतिरिक्त पुलि बल तैनात किया गया।

करोड़ों रूपयों के घोटाले की जांच की शुरूआत करने वाले एसपी श्री तिवारी का पिछले सप्ताह अचानक छिंदवाड़ा स्थानांतरण किए जाने के बाद से कटनी में स्थानीय लोग विरोध-प्रदर्शन करते हुए उन्हें वापस बुलाए जाने की मांग कर रहे हैं। श्री तिवारी का स्थानांतरण राजनीतिक दबाव के चलते होना माना जा रहा है। मामले में राज्य के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्य मंत्री संजय पाठक का नाम आने के बाद से कई मंचों से उनके इस्तीफे की मांग भी उठ रही है।

नगर में आज जहां कांग्रेस और अन्य संगठनों ने आंदोलन किया तो मंत्री श्री पाठक के समर्थन में उनके समर्थक हस्ताक्षर अभियान शुरू करने के साथ सक्रिय दिखायी दिए।

इस बीच कुछ आंदोलनकारियों ने कटनी के पास मुड़वारा स्टेशन पर एक ट्रेन को लगभग 15 मिनट तक रोके रखा। कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी को रेलवे ट्रैक पर पहुंचने के दौरान उनके समर्थकों समेत गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद सैकडों कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारियां दीं।

इसके पहले विधायक श्री पटवारी ने पत्रकारों से कहा कि हवाला घोटाला के आरोपियों को बचाने के लिए तत्कालीन एसपी गौरव तिवारी का तबादला किया गया है। सरकार मंत्री श्री पाठक और अन्य प्रभावी आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है।

Related Posts: