Supreme-Courtनयी दिल्ली,  उच्चतम न्यायालय ने नीतीश कटारा हत्याकांड के अपराधियों की सजा बढ़ाने संबंधी याचिका आज खारिज कर दी। न्यायमूर्ति जे एस केहर और न्यायमूर्ति आर भानुमति की खंडपीठ ने नीतीश की हत्या को ‘विरलों में विरलतम’ घटना करार देने से इन्कार करते हुए मृतक की मां नीलम कटारा की विशेष अनुमति याचिका  खारिज कर दी।

नीलम कटारा ने सजायाफ्ता विकास यादव एवं विशाल यादव की सजा बढ़ाकर मृत्युदंड देने का अनुरोध न्यायालय से किया था। नीतीश कटारा की हत्या बाहुबली नेता डी पी यादव की बेटी भारती यादव के साथ प्रेम प्रसंग के कारण हुई थी।

Related Posts:

भाजपा ने मनीष के बयान पर मनमोहन और एंटनी से मांगा जवाब
ऑड-ईवन के संकट से खुद निपटने में सक्षम : लोकसभा सचिवालय
सोनिया, मनमोहन और राहुल हिरासत के बाद रिहा
जीएसटी की मानक दर 18 फीसदी से अधिक मंजूर नहीं : चिदम्बरम
नोट बंद करने के सरकार के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई
सैनिकों को मानकों के अनुसार दिया जाता है भोजन : रक्षा मंत्री