25pic4नई दिल्ली,  पटियाला हाउस कोर्ट में कन्हैया कुमार को पीटने के आरोप में गिरफ्तार हुए वकील यशपाल सिंह पर एक जमीन के सौदे के संबंध में एक व्यक्ति ने धोखाधड़ी का आरोप लगाया है. शिकायतकर्ता सुधीर कुमार का कहना है कि यशपाल ने उन्हें जमीन से संबंधित नकली कागज दिखाकर 45 लाख रुपये ठग लिए.

सुधीर के मुताबिक यशपाल ने उसे बताया था कि जमीन की मालिक राजुकमारी धावेजा (78) अमेरिका चली गई है और जमीन का निपटारा करना चाहती है. उनका कहना है कि जमीन के नकली कागज दिखाकर यशपाल ने उनसे 45 लाख रुपये ठग लिए. साल 2014 में सुधीर ने यशपाल के खिलाफ ग्रेटर कैलाश पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया था जिसके बाद दिल्ली हाई कोर्ट ने उसे प्रारंभिक जमानत देने से इनकार कर दिया था. इस मामले में अगर यशपाल को दोषी पाया जाता है तो उसे आजीवन कारावास की सजा हो सकती है.

सुधीर ने बताया कि एक जान-पहचान वाले ने उसकी मुलाकात यशपाल से करवाई थी. यशपाल को सुप्रीम कोर्ट का वकील बताकर उस व्यक्ति ने कहा था कि उसके पास ग्रेटर कैलाश-ढ्ढ की एक जमीन का सौदा है. इस संबंध में जब सुधीर यशपाल से मिलने तीस हजारी कोर्ट गए थे. उनके मुताबिक यशपाल ने उन्हें जमीन की मालिक राजकुमारी धावेजा के बारे में बताया. उसने कहा कि राजकुमारी की कोई संतान नहीं है. वह इस जमीन की अकेली मालिक है और अमेरिका में अपने रिश्तेदार के यहां रहती है. वह जमीन को बेचना चाहती थी. यशपाल ने सुधीर से दावा किया कि महिला उस पर यकीन करती है और इसलिए जमीन के निपटारे के लिए उसे जिम्मेदारी दी है.