नयी दिल्ली, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर कथित सबूतों के साथ भ्रष्टाचार का अारोप लगाने वाले पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने अपना हमला जारी रखा है और कहा है “ जो जेल से बाहर है वो ईमानदार है, यह है केजरीवाल का नया अवतार।”

श्री मिश्रा के आरोपों पर श्री केजरीवाल ने कल पहली बार चुप्पी तोड़ी थी और पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये आरोपों को झूठा और निराधार करार दिया था।

श्री केजरीवाल के इस बयान पर श्री मिश्रा ने आज ट्वीटर पर लिखा“ ना सबूतों पर बोले , ना हवाला और कालेधन के दस्तावेज पर। ना अपने सगे संबंधियों के भ्रष्टाचार पर बोले और ना विदेशी दौरों पर। ये नये केजरीवाल है, ये कहते हैं अगर अपराधी होता तो जेल में होता। जेल में नहीं हूं इसका मतलब अपराधी नहीं हूं।”
पूर्व मंत्री ने लिखा है “जेल में तो शीला दीक्षित भी नहीं है, कलमाड़ी भी नहीं है, रेड्डी भी नहीं है और यहां तक की दाऊद भी नहीं। नये केजरीवाल के हिसाब से तो काॅमनवेल्थ , 2जी, कोयला कोई घोटाला भी नहीं हुआ होगा क्योंकि जेल में तो कोई भी नहीं।”

उन्होंने ट्वीट में कहा है “ जो जेल से बाहर है वह ईमानदार है, यह है केजरीवाल जी का नया अवतार। यह है केजरीवाल जी का नया रूप, बदले-बदले से सरकार नजर आते हैं।” पूर्व मंत्री ने कहा, “बस एक बात कहना चाहता हूं, कार्यकर्ताओं को, जनता को घुमा-फिराकर बेवकूफ बनाना ज्यादा दिन नहीं चलता। आप के भ्रष्टाचार और झूठ के सम्राज्य का अंत नजदीक है। बहुत नजदीक है।”

गौरतलब है कि श्री मिश्रा ने मुख्यमंत्री पर ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपये नगद लेने, हवाला कारोबारियों से संपर्क होने और पार्टी के नेताओं की विदेश यात्राओं में भारी गड़बड़झाला जैसे संगीन आरोप लगाये हैं। वह दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) केंद्रीय जांच ब्यूरो और केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड में भी शिकायत कर चुके है।

Related Posts: