25nn12भोपाल,25 अगस्त.मुख्य सचिव अन्टोनी डिसा ने कहा कि प्रदेश में ऊर्जा के क्षेत्र में पिछले वर्षों में उल्लेखनीय तरक्की हुई है.बिजली के उत्पादन से लेकर ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन के क्षेत्र में काफी काम हुए हैं.बिजली की उपलब्धता को बढ़ाया गया है.

अब राज्य में बिजली की उपलब्धता 14 हजार 500 मेगावॉट हो गयी है.उन्होंने कहा कि बिजली की उपलब्धता के साथ-साथ उपभोक्ता को बेहतर और गुणवत्तापूर्ण सेवाएँ देना विद्युत वितरण कंपनियों की प्राथमिकता है.इसी कड़ी में उच्च दाब उपभोक्ता को कनेक्शन देने के लिए पश्चिम, पूर्व एवं मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में संकल्प सेवा का लोकार्पण किया गया है.मुख्य सचिव डिसा ने आज मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के गोविन्दपुरा स्थित पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन ट्रेनिंग सेंटर में संकल्प ऑनलाइन सेवा का लोकार्पण करते हुए यह बात कही.
मुख्य सचिव ने कहा कि प्रदेश में पिछले वर्षों में पानी, सड़क और बिजली के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हुई है और विकास दर में इन तीनों क्षेत्र का 80 फीसदी योगदान है.उन्होंने कहा कि राज्य में बिजली की उपलब्धता में कोई कमी नहीं है.

अब इस बात पर ध्यान दिया जाये कि उपभोक्ता को गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति हो.बिजली में ब्रेकडाउन न हो, वोल्टेज में उतार-चढ़ाव की दिक्कत न हो, उपभोक्ता सेवाएँ, जैसे बिलिंग और बिजली विक्रय के बाद जो सेवाएँ उपभोक्ता को मिलना चाहिए, उन पर ध्यान दिया जाये.मुख्य सचिव ने कहा कि सूचना-प्रौद्योगिकी के माध्यम से विद्युत वितरण कंपनी को कनेक्शन की प्रक्रिया को सरल कर एल.टी. उपभोक्ता को भी ऑनलाइन कनेक्शन देने की सुविधा देना चाहिये.मुख्य सचिव ने कहा कि उपभोक्ता सेवाओं में गुणवत्ता लाने के लिए कम से कम दस्तावेज के आधार पर लोगों को कनेक्शन दिये जायें.उन्होंने सुधार की प्रक्रिया को लगातार जारी रखने के लिये कहा.

Related Posts: