24KK5मैसूरू,  लेफ्ट आर्म स्पिनर जगदीश सुचित (60 रन पर छह विकेट) की घातक गेंदबाजी के बाद कप्तान चिदंबरम गौतम (49) की संयमित पारी की बदौलत रणजी चैंपियन कर्नाटक ने अंतरराष्ट्रीय खिलाडिय़ों से सुसज्जित बंगलादेश-ए टीम को तीन दिवसीय अभ्यास मैच के तीसरे और अंतिम दिन गुरुवार को चार विकेट से पीट दिया.

कर्नाटक ने तीन विकेट पर 188 रन से आगे खेल रहे बंगलादेश-ए को दूसरी पारी में 309 रन पर समेट दिया, कर्नाटक को जीत के लिये 181 रन बनाने का लक्ष्य मिला जो उसने चिदंबरम गौतम (49), अभिषेक रेड्डी (36), शिशिर बावने (24), मयंक अग्रवाल (23) और श्रेयस गोपाल (नाबाद 40) की उपयोगी पारियों से 40.5 ओवर में छह विकेट पर 185 रन बनाकर हासिल कर लिया. बंगलादेश ए टीम को इससे पहले भारत-ए के खिलाफ तीन गैर आधिकारिक एकदिवसीय मैचों की सीरीज में 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था और अब उसे अभ्यास मैच में भी शिकस्त झेलनी पड़ी है, बंगलादेशी टीम 27 से 29 सितंबर तक बेंगलुरू में भारत-ए के खिलाफ एकमात्र गैर आधिकारिक टेस्ट खेलेगी. कप्तान गौतम ने टीम को शुरूआती झटकों से उबारते हुये तीसरे विकेट के लिये अग्रवाल के साथ 60 रन की साझेदारी की, रवि कुमार समर्थ (एक) और राबिन उथप्पा (तीन) के विकेट 13 रन के स्कोर तक गिर जाने के बाद गौतम ने कप्तानी की जिम्मेदारी के साथ खेलते हुये 35 गेंदों पर 49 रन की पारी में 10 चौके लगाये. अग्रवाल ने 39 गेंदों पर 23 रन में तीन चौके लगाए. गौतम और अग्रवाल के विकेट नौ रन के अंतराल में गिरे और कर्नाटक का स्कोर चार विकेट पर 82 रन हो गया. लेकिन इसके बाद अभिषेक, शिशिर और श्रेयस ने पूरी जिम्मेदारी के साथ खेलते हुये अपनी टीम को जीत की मंजिल पर पहुंचाते हुये दम लिया.

शिशिर ने 24 गेंदों पर 24 रन में चार चौके लगाए. अभिषेक और शिशिर ने पांचवें विकेट के लिये 43 रन की साझेदारी की. इसके बाद अभिषेक ने श्रेयस के साथ 41 रन की साझेदारी की और टीम को जीत दिलाई. अभिषेक ने 80 गेंदों पर 36 रन में चार चौके लगाये. श्रेयस गोपाल ने 44 गेंदों पर 40 रन की अविजित पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया. सुचित छह रन पर नाबाद रहे, बंगलादेश-ए की ओर से अल अमीन हुसैन ने 23 रन पर दो विकेट और सकलेन साजिब ने 55 रन पर दो विकेट लिये.

इससे पहले बंगलादेश ने सुबह तीन विकेट पर 188 रन से आगे खेलना शुरू किया, लिट्टन दास 37 और सौम्य सरकार 24 रन पर नाबाद थे. बंगलादेश ने अपना चौथा विकेट एक रन जोड़ते ही गंवा दिया. प्रसिद्ध कृष्णा ने लिट्टन को उथप्पा के हाथों कैच कराया.
लिट्टन ने 81 गेंदों पर 38 रन में पांच चौके लगाए. सौम्य सरकार 62 गेंदों में सात चौकों की मदद से 43 रन बनाकर पांचवें विकेट के रूप में आउट हुये. सरकार का शिकार एच एस शरत ने किया, इसके बाद लेफ्ट आर्म स्पिनर सुचित ने कहर बरपाते हुये बंगलादेशी टीम को 76 ओवर में 309 रन पर समेट दिया.

सुचित ने बंगलादेश के आखिरी पांच बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया. कल उन्होंने ओपनर रोनी तालुकदार का विकेट लिया था जबकि आखिरी दिन सुचित ने नासिर हुसैन (44), साजिब (एक), कामरूल इस्लाम (एक), जुबैर हुसैन (शून्य) और अल अमीन (एक ) के विकेट झटके. सुचित ने 12 ओवर में 60 रन पर छह विकेट लेकर पर्दापण मैच में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा दिया.
21 वर्षीय सुचित को पहली पारी में एक विकेट मिला था लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने छह विकेट हासिल किया था. शुवाग्ता हेाम 74 गेंदों में सात चौकों और एक छक्के की मदद से 50 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे, उदित पटेल ने 78 रन पर दो विकेट, शरत ने 37 रन पर एक विकेट और कृष्णा ने 53 रन पर एक विकेट लिया.

Related Posts: