kashmirश्रीनगर,  हिजुबल मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर बुरहान वानी के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद कश्मीर घाटी में भड़की हिंसा में देर रात दो लोगों की और मौत हो जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 23 हो गयी है। सुरक्षाबलों और उग्र प्रदर्शनकारियों के बीच हुई झड़प में अब तक सुरक्षाबल के 100 से अधिक जवानों समेत लगभग 300 लोग घायल हुए हैं।

अधिकारियों ने बताया कि आज स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है। रात से घाटी में कोई बड़ी अप्रिय घटना होने की जानकारी नहीं मिली है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि गोली लगने से घायल हुई एक लड़की यास्मीन की दे रात एसएमएचएस अस्पताल में मौत हो गयी। उसे कुलगाम जिले के डी एच पुरा में प्रदर्शन के दौरान सुरक्षाबलों की कार्रवाई में गोली लगी थी।
सूत्रों ने साथ ही बताया कि शोपियां के जैनपुरा में गत रात हुए प्रदर्शन के दौरान सुरक्षाबलों ने गोलियां चलायीं, जिसमें एक किशोर आसिफ की मौत हो गयी।

राज्य सरकार ने कश्मीर घाटी में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए अभिभावकों, अलगाववादी संगठनों तथा मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियों से अपील की है। सुरक्षाबलों के साथ गत शुक्रवार शाम हुई मुठभेड़ में वानी तथा दो अन्य आतंकवादियों के मारे जाने के बाद से पूरी घाटी में हिसा की लहर फैल गयी है। प्रदर्शनकारी जमकर उत्पात मचा रहे हैं। प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए सुरक्षाबलों को लाठीचार्ज करना पड़ रहा है, आंसू गैस के गोले छोडने पड़ रहे हैं और हवा में गोलियां चलानी पड़ रही हैं।

मुख्य विपक्षी दल नेशनल कांफ्रेंस तथा कुछ अलगाववादी संगठनों ने भी लोगों ने अपील की है कि वे सुरक्षाबलों के साथ हुई झड़प के दौरान लोगों के मारे जाने के विरोध में संयम बरतें। इसी बीच स्वास्थ्य विभाग ने प्रदर्शन के दौरान घायल हुए लोगों के उपचार के मद्देनजर सभी डॉक्टरों तथा अन्य अस्पताल कर्मचारियों को अगर वे अवकाश पर भी हों, तो ड्यूटी पर आने का निर्देश दिया है।