sonia_Nehruनई दिल्ली,  आज अपना 131वां स्थापना दिवस मना रही कांग्रेस में मुंबई इकाई के एक जर्नल में छपी लेख ने खलबली मचा दी है. सोमवार की सुबह से इस मुद्दे पर शुरू हुए बवाल के बाद कांग्रेस ने कांग्रेस दर्शन के सामग्री संपादक सुधीर जोशी को बर्खास्त कर दिया.

इस लेख में कश्मीर, चीन और तिब्बत के हालात के लिए जवाहर लाल नेहरू पर आरोप लगाया गया है. इसमें कहा गया है कि नेहरू को अंतरराष्ट्रीय मामलों पर पूर्व गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की बात सुननी चाहिए थी. लेख में मौजूदा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधने के साथ व्यक्तिगत टिप्पणी भी की गई. जर्नल के संपादक और मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने माना कि गलती हुई है. उन्होंने कहा कि संपादकीय टीम में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

15 दिसंबर को पटेल की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के मकसद से इस महीने कांग्रेस दर्शन के हिंदी संस्करण में एक लेख छापा गया लेकिन इसमें लेखक का नाम नहीं है. लेख में कहा गया है, उप प्रधानमंत्री और गृह मंत्री के पद पर रहने के बावजूद दोनों नेताओं के बीच संबंध तनावपूर्ण बने रहे और दोनों ने उस वक्तकई बार इस्तीफा देने की धमकी भी दी थी.

लेख के मुताबिक, अगर नेहरू ने पटेल की दूरदर्शिता को ग्रहण किया होता तो कई अंतरराष्ट्रीय मामलों को लेकर समस्या खड़ी नहीं होती. लेख में 1950 में पटेल के लिखे एक कथित पत्र का हवाला दिया गया है, जिसमें उन्होंने तिब्बत को लेकर चीन की नीति के खिलाफ नेहरू को आगाह करते हुए चीन को एक अविश्वासी और भविष्य में भारत के दुश्मन के तौर पर बताया है.

 

Related Posts: