parliamentनयी दिल्ली,  नेशनल हेराल्ड के मुद्दे पर कांग्रेस ने आज तीसरे दिन भी राज्यसभा में हंगामा किया जिसके कारण सदन में अपराह्न तीन बजे तक कोई कामकाज नहीं हो पाया। चार बार के स्थगन क बाद दो बजे कार्यवाही पुन: शुरू होने पर उप सभापति पी जे कुरियन ने सूचना प्रदाता संरक्षण विधेयक पर चर्चा आगे बढाने के लिए समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल का नाम पुकारा तो कांग्रेस के सदस्य आसन के समक्ष आकर पहले की तरह नारेबाजी करने लगे।

संसदीय कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि हंगामा कर रहे कांग्रेस के सदस्यों को सदन से बाहर भेज देना चाहिए। इससे इन्हें सदबुद्धि आएगी। उन्होंने कहा कि सदन की कार्यवाही चलनी चाहिए क्योंकि बाकी सदस्य चर्चा में भाग लेना चाहते है। उप सभापति ने श्री अग्रवाल ने अपनी बात रखने के लिए कहा लेकिन सपा सदस्य ने कहा कि वह इस हालत में अपनी बात नहीं कह सकते और सदन में व्यवस्था होनी चाहिए।

श्री कुरियन ने नारे लगा रहे कांग्रेसी सदस्यों से सीटों पर लौटने का आग्रह किया और सदन की कार्यवाही चलाने में सदन का सहयोग मांगा। इस बीच बीजू जनता दल के अभिनव माेहंती ने पोलावरम परियोजना का मामला उठाते हुए कहा कि यह राजनीतिक मुद्दा नहीं है और आदिवासियों के जीवन मरण से जुडा है। पार्टी तीन दिन से यह मामला सदन में उठा रही है अौर सरकार से जवाब चाहती है।

इस पर कांग्रेस के सदस्यों ने खास तरह की ध्वनि निकालनी शुरू कर दी जिससे सदन में कुछ भी नहीं सुना जा सका। उप सभापति ने कहा कि सदन में इस तरह की ध्वनि निकालने की अनुमति नहीं है। इसके बाद उन्होंने कार्यवाही तीन बजे तक स्थगित कर दी। कांग्रेस के सदस्यों के हंगामे के कारण गत दो दिनों के दाैरान भी सदन में कोई कामकाज नहीं हो पाया था।

Related Posts: