सोनामुरा,

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसने पूर्वाेत्तर के लोगों की वास्तविक समस्याअों और उनकी जरूरतों ध्यान में रखे बिना योजनाएं बनायीं जिससे क्षेत्र में विकास की रफ्तार मद्धिम पड़ गयी।

श्री मोदी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि त्रिपुरा और पूर्वोत्तर के लोगों के जीवन और संस्कृति के साथ बांस का निकट संबंध है लेकिन पहले की सरकारों ने बांस को महज एक लकड़ी माना।निजी भूमि पर बांस को उपजाने और कटाई के लिए कड़े नियम और प्रतिबंध थे।

प्रधानमंत्री ने कहा, “ हमारी सरकार ने स्थिति का एहसास किया और बांस उपजाने और उसकी कटाई पर लगे सभी प्रतिबंध हटा दिये। इससे क्षेत्र के लोगों को बांस की खेती के जरिए आजीविका का एक बड़ा अवसर मिला।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में दिल्ली में बैठे लोगों ने स्थिति की व्यावहारिकता पर ध्यान दिए बिना पूर्वोत्तर के लिए योजनायें बनायीं। नतीजतन, क्षेत्र में बड़ी संख्या में परियोजनाएं विफल रहीं और पूर्वोत्तर में विकास की रफ्तार धीमी हो गयी।

उन्होंने कहा,“ हमारी सरकार ने ‘लुक ईस्ट पॉलिसी एज एक्ट ईस्ट पॉलिसी ’ बनाई और क्षेत्र के लोगों को इसके फल मिलने शुरू हो गये हैं। उन्होंने कहा, “ हम देश के बाकी हिस्सों के साथ पूर्वोत्तर का विकास करने के लिए प्रतिबद्ध हैं लेकिन हमें लोगों के समर्थन की आवश्यकता है।”

Related Posts: