नयी दिल्ली,

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की टिप्पणी को लेकर कांग्रेस सदस्यों ने आज संसद की कार्यवाही ठप कर दी तथा दोनों सदनों लोकसभा एवं राज्यसभा में हंगामें कारण प्रश्नकाल नहीं हो सका।

दोनों सदनों में सुबह कार्यवाही शुरू होते हुए कांग्रेस ने श्री सिंह के खिलाफ श्री मोदी की टिप्पणी का मामला उठाया और ‘प्रधानमंत्री माफी मांगों’ के नारे लगाते हुए शोर शराबा करने लगे।

हालांकि लोकसभा में अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और राज्यसभा में उप सभापति पी जे कुरियन कांग्रेस के सदस्यों के हंगामें के बीच जरुरी विधायी कामकाज निपटाया। इसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही कल मंगलवार तक स्थगित कर दी गयी।

लोकसभा में सुबह कार्यवाही शुरू करते हुए श्रीमती महाजन ने पिछले दिनों कृष्णा नदी में हुई नाव दुर्घटना, ओखी चक्रवात तथा विदेशों में मारे गये निर्दोषों की मौत पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने विभिन्न स्थानों पर हुए आतंकवादी हमलों की निंदा भी की।

इसके बाद सदन में कुछ देर मौन रखकर मृतकों को श्रद्धाजलि दी। इसके बाद उन्होंने प्रश्नकाल शुरू करने का प्रयास किया तो विपक्षी सदस्य खड़े होकर मनमोहन मुद्दे पर प्रधानमंत्री के स्पष्टीकरण की मांग करने लगे। सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने खड़े होकर अपनी बात रखने की कोशिश की।

इस दौरान विपक्ष तथा सत्ता पक्ष के सदस्य जोर-जोर से बोलते रहे। इसी शोर-शराबे के बीच श्रीमती महाजन ने सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

इसके बाद शून्यकाल के दौरान अध्यक्ष ने जरूरी कागजात सदन पटल पर रखवाये और कुछ विधेयक पेश किये गये । इसके बाद कांग्रेस के सदस्यों तथा सत्तारूढ भाजपा के सदस्यों के शोरगुल और हंगामा के का कारण सदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित करने की घोषणा कर दी।

Related Posts: