महंगाई, बेरोजगारी का किया विरोध

भोपाल,

म.प्र. कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव मुनव्वर कौसर के नेतृत्व में महंगाई के विरुद्ध देश एवं प्रदेश की भाजपा सरकार का पुतला दहन किया और मुनव्वर कौसर ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाये हैं कि प्रदेश-देश सहित भाजपा के शासनकाल में आम जनता परेशान है.

महंगाई के चलते जो दालें 65 रुपये किलो थीं आज दोगुने दाम हो गये हैं. आलू, प्याज, टमाटर के दाम भी आसमान छू रहे हैं. पेट्रोल-डीजल की कीमतें निरंतर दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं. जो पेट्रोल 60 रुपये लीटर था, वो 76.80 पैसे और जो डीजल 45 रुपये प्रति लीटर था, वह आज 56 रुपये लीटर बिक रहा है.

रसोई गैस सिलेंडर जो 450 रुपये में आता था, वह अब 750 रुपये में आ रहा है. वहीं सब्सिडी भी किसी के खाते में आती है, किसी के नहीं. शहरी क्षेत्र के बिजली बिलों से आम जनता परेशान है जो बिल पहले 500 रुपये का आता था, वह अब 3 हजार रुपये का आता है.

केन्द्र की भाजपा सरकार ने करोड़ों नौकरियां देने का वादा किया था. नौकरियां तो नहीं दे पाये परंतु जीएसटी और नोटबंदी के चलते कई लोगों की नौकरियां चली गईं तो कई लोग बेरोजगार हो गये.

इसी तरह प्रदेश में अपराध चरम सीमा पार कर चुके हैं. एनसीबीआर की रिपोर्ट में भी म.प्र. अपराधों में नंबर-वन है. इस प्रकार भाजपा शासनकाल में भाजपा सरकार हर क्षेत्र में अपने किये हुये वादों को पूरा करने में नाकाम और विफल साबित हुई है.

आम जनता की महंगाई, बेरोजगारी के चलते कमर टूट गई है. इस अवसर पर कांग्रेस जिला अध्यक्ष पी.सी. शर्मा, संजय दुबे, जैरी पॉल, धर्मेन्द्र, कृष्णा, इमरान खान, शेख कैप्टन, तबरेज, फरीदा खान, अशरफ अंसारी, शाहनाज खान, मुदस्सिर खान, समीर कुरैशी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे.

अब आ रहे 4 से 5 हजार के बिल

जो बिल पहले एक हजार रुपये का आता था वह अब 4-5 हजार रुपये का आ रहा है. एक तरफ तो महंगाई और बेरोजगारी की मार तथा दूसरी ओर जनता के ऊपर हजारों-लाखों रुपये के फर्जी बिजली बिल दिये जा रहे हैं, जो अत्यंत निन्दनीय है. झुग्गी-झोपड़ी वालों के बिल भी हजारों-लाखों में आ रहे हैं. बिल नहीं जमा करने पर अदालत में पेशी अन्यथा जेल.

Related Posts: