amit_shahनई दिल्ली,   भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ‘कांग्रेस मुक्त भारतÓ के नारे की नयी परिभाषा देते हुए आज कहा कि यह नारा पार्टी विशेष के खिलाफ नहीं वरन् उस कार्यशैली के खिलाफ है, जो कांग्रेस के शासनकाल में पनपी और जिसने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए देशहित को बलि चढ़ा दिया.

शाह ने मोदी सरकार के दो साल पूरे होने के मौके पर विकास पर्व पखवाड़े की पूर्व संध्या पर कहा कि कांग्रेस मुक्त भारत का नारा अव्यवस्था के खिलाफ है, न कि किसी पार्टी विशेष के विरुद्ध. कांग्रेस ने अपने शासनकाल में नेताओं के निहित स्वार्थ की खातिर देशहित की बलि चढ़ा दी. यूपीए के दस साल के शासन में ऐसे अनगिनत उदाहरण हैं.

Related Posts: