1carभोपाल,1 जून,नभासं. कार सड़क किनारे खड़ी कर कोल्ड्रिंक पीना चचेरे भाइयों को महंगा पड़ गया. वह कोल्ड्रिंक पीकर महज बीस मिनट बाद कार की तरफ पहुंचे तो उनके होश उड़ गए. कार का कंडक्टर साइड की खिड़की का कांच टूटा हुआ था, वहीं कार के डेस बोर्ड में रखी 2 लाख 76 हजार की नकदी नहीं थी.

मामला मिसरोद थाना क्षेत्र स्थित श्रीराम कॉलोनी का है. पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस के अनुसार जाटखेड़ी निवासी 24 वर्षीय जितेंद्र पटेल किसान हैं. उनकी जाटखेड़ी में जमीन है. जितेंद्र अपने चचेरे भाई अंकित पटेल के साथ कार से मिसरोद आए थे. उन्होंने 3 लाख 12 हजार रुपए बैंक में जमा किए. इसके बाद कुछ रुपए बैंक ऑफ इंडिया से निकाले और घर की तरफ निकल गए.

इस दौरान उन्होंने कुल 2 लाख 76 हजार रुपए पेपर में लपेटकर कार के डेस बोर्ड पर रख दिए थे. दोपहर करीब ढाई बजे चिलचिलाती गर्मी में उन्हें श्रीराम कॉलोनी के पास कोल्ड्रिंक की दुकान दिख गई.

दुकान दिखते ही उन्होंने कार साइड में लगाई और करीब 20 मीटर की दूरी पर स्थित दुकान में कोल्डिं:क पीने लगे. जितेंद्र पटेल ने बताया कि कार लॉक थी. डेस बोर्ड पर पासबुक और 2 लाख 76 हजार रुपए की नकदी रखी हुई थी. कोल्ड्रिंक पीने के बीस मिनट बाद जब दोनों भाई कार की तरफ पहुंचे तो पता चला कि कार के कंडक्टर साइड का कांच टूटा हुआ है. वहीं अंदर रखी नकदी समेत पासबुक और अन्य दस्तावेज नहीं थे.

Related Posts: