वाशिंगटन,

अमेरिका का मानना है कि शनिवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुए एंबुलेंस बम धमाके को अफगान तालिबान यानी हक्कानी नेटवर्क ने अंजाम दिया।अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन ने आज रायटर को यह जानकारी दी।

अफगानिस्तान में नाटो नेतृत्व वाले सहयोग मिशन के कैप्टन टॉम ग्रेसबैक ने कहा, “हमें पूरा विश्वास है कि बीते शनिवार को 103 लोगों की जाने लेने के पीछ तालिबान का हक्कानी नेटवर्क है।”

एक अन्य अमेरिकी अधिकारी ने पहचान गुप्त रखे जाने की शर्त पर कहा कि अमेरिका को यकीन है कि हमले के पीछे हक्कानी नेटवर्क है।अमेरिका बहुत पहले ही पड़ोसी पाकिस्तान को आतंकवाद की पनाहगाह बता चुका है।गौरतलब है कि 27 जनवरी को काबुल में हुए बम धमाके में 100 से ज्यादा लोग मारे गये थे।

Related Posts: