modi2नई दिल्ली, 7 मई. अल्पसंख्यकों के मुद्दे पर हो रही आलोचना की पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोर देकर कहा है कि उनकी सरकार जाति, संप्रदाय और धर्म के आधार पर किसी तरह का भेदभाव ‘बर्दाश्त या स्वीकार नहीं करेगी’ ।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि भारत में अल्पसंख्यकों के अधिकारों पर ‘काल्पनिक आशंकाओं’ की कोई जगह नहीं है । भाजपा के कुछ नेताओं की ओर से की गई विवादित टिप्पणियों की खिलाफत करते हुए मोदी ने कहा कि जब भी किसी खास अल्पसंख्यक धर्म के बाबत किसी व्यक्ति द्वारा कुछ कहा गया तो ”हमने तुरंत उसे अस्वीकार किया है ।’  ‘टाइम’ मैगजीन को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने ये बातें कहीं ।

Related Posts:

विधान सभा में अश्लील वीडियो देख रहे थे मंत्रीजी
आईपीएल-5 के पहले मैच में चेन्नई ने घुटने टेके
कटियार ने चेताया: तो ज्वालामुखी बनेंगे रामभक्त
सरकारी कैलेंडर 2016 में प्रधानमंत्री की विकासोन्मुख नीतियों की झलक: जेटली
कनेक्शन ही नहीं मुफ्त में गैस भी मुहैया कराये सरकार : मायावती
कश्मीर समस्या के समाधान के लिए हुर्रियत, पाकिस्तान से बातचीत जरूरी : माकपा