karnatakबेंगलुरु,  कावेरी नदी का पानी तमिलनाडु को दिए जाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कर्नाटक के लोगों ने आज राज्य में अनेक जगहों पर रेल रोको अभियान चलाया ।

बेंगलुरु, उडुपी, कोप्पल, चित्रदुर्ग, संगोली, मांड्या और मैसूर में ट्रेन रोक रहे प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने हिरासत मेें ले लिया ।

हिरासत में लिए गए लोगों में पूर्व विधायक वटल नागराज सहित कर्नाटक रक्षण वेदिके के सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल हैं ।

इन सभी रेलवे स्टेशनों पर धारा 144 लगा दी गई है ।

राजधानी बेंगलुरु में यह पाबंदी 25 सितंबर तक जारी रहेगी।
दक्षिण-पश्चिम रेलवे के सूत्रों ने यूनीवार्ता को बताया कि रेल रोको प्रदर्शन से ट्रेनों के संचालन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा आैर वे सुचारु रूप से चलती रहीं।

छोटी और लंबी दूरी की ट्रेनों पर प्रदर्शन का विशेष प्रभाव नहीं पड़ा ।

प्रदर्शनकारियों को रेलवे स्टेशन के करीब आने से रोकने के लिए प्रशासन ने व्यापक इंतजाम किए थे ।

मैसूर और मांड्या डिवीजन में भी ट्रेनों का आवागमन सुचारु रूप से चलता रहा ।
कलबुर्गी में पुलिस ने 15 प्रदर्शनकारी युवाओं को हिरासत में ले लिया जो मुंबई-बेंगलुरु उद्यान एक्सप्रेस को रोकने का प्रयत्न कर रहे थे ।

कर्नाटक रक्षणा वेदिके ने शहर में कई जगहों तथा रेलवे स्टेशन पर भी विरोध प्रदर्शन किया लेकिन पुलिस ने सुरक्षा का व्यापक प्रबंध कर रखा था और सभी प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया ।