rail_budgetनई दिल्ली, 26 फरवरी. मोदी सरकार में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अपना पहला रेल बजट पेश करते हुए ऐलान किया कि यात्री किराये में कोई बढ़ोतरी नहीं की जाएगी.

रेल मंत्री ने कहा कि भारतीय रेल की सेहत सुधारने के लिए अगले पांच साल में साढे आठ लाख करोड़ रूपये का निवेश किया जायेगा. प्रभु ने लोकसभा में वर्ष 2015-16 का रेल बजट पेश करते हुये कहा कि बहुत समय से निवेश नहीं होने से रेलवे की सेहत खराब हुयी है.रेल को सुरक्षित बनाने, ट्रेनों की गति बढ़ाने के साथ ही ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों को गंदगी से मुक्त बनाकर साफ रेल की परिकल्पना को साकार करने का ऐलान करते हुये उन्होंने कहा कि अगले पांच साल में रेलवे का कायाकल्प किया जायेगा.उन्होंने कहा कि अगले पांच साल में रेलवे की सेहत सुधारने पर साढे आठ लाख करोड रूपये का निवेश किया जायेगा. उन्होंने उपभोक्ताओं पर कोई भार नहीं डालते हुये किराये में कोई वृद्धि न करने की घोषणा की.उन्होंने कहा कि रेलवे के 492 खंडों का 100 प्रतिशत से अधिक और 228 खंडों का 80 से 100 प्रतिशत उपयोग हो रहा है.उन्होंने कहा कि साधारण टिकट को सरल बनाया जायेगा और कुछ मेन लाइनों और महिला कोचों में सीसीटीवी कैमरे लगाये जायेंगे.

रेल टिकट अब यात्रा तिथि से 120 दिन (चार महीने) पहले बुक किये जा सकेंगे, अभी यह समय सीमा 60 दिन है.

Related Posts: