hemaमथुरा,  सांसद हेमा मालिनी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी किसानों के विषय में बहुत संवेदनशील हैं और कृषकों को समृद्ध बनाने के लिए उन्होंने अनेकों लाभकारी योजनायें संचालित की हैं। पं0 दीनदयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गौ-अनुसंधान संस्थान परिसर में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना विषय पर आयोजित किसान जागरूकता सम्मेलन एवं कृषि प्रदर्शनी का आज उदघाटन करते हुए हेमामालिनी ने कहा कि नई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना देश का भाग्य बदलने वाली सिद्ध होगी।

उन्होंने कहा कि किसानों की आंधी-तूफान, ओलावृष्टि, बाढ़, सूखा आदि देवी आपदाओं से बर्बादी की आम समस्याओं पर पूरे मंथन के उपरान्त प्रधानमंत्री ने जो नई किसान फसल बीमा लागू की है उसमें पूर्व की बीमा योजनाओं की कमियों के निवारण को भी शामिल करते हुए देय प्रीमियम राशि बहुम कम रखी है। इस योजना में क्षति पर किसान को उसकी लागत के अनुसार बीमा राशि देने का प्राविधान है।

साथ ही कहा कि इसमें अब तक 23 प्रतिशत ही किसानों ने बीमा कराया है। उन्होंने अधिक से अधिक किसानों से इस योजना का लाभ लेने के लिए इसमें पंजीकरण कराने की सलाह दी। सांसद ने किसाSet featured imageनों की लाभकारी प्रधानमंत्री सिंचाई योजना, विद्युत सम्बन्धी दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड सहित यूरिया के दुरूपयोग रोकने के लिए नीम कोटेड यूरिया की आपूर्ति और बृज की गायों के संरक्षण के लिए राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना सम्बन्धी विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने भगवान कृष्ण की नगरी से सांसद बनने को अपना सौभाग्य बताते हुए कहा कि ऋषि मुनियों एवं किसानों की इस धरा की समस्याओं के निवारण के लिए वह सदैव तत्पर रहेंगी । अन्नदाता किसानों की समस्याओं के निराकरण के लिए जिस स्तर पर भी प्रयास किये जाने हैं उसमें वे किसी प्रकार की कोताही नहीं बरतेंगी। इस अवसर पर उन्होंने ‘‘बृज में कृषि एवं पशु पालन‘‘ पुस्तिका का विमोचन और प्रदर्शनी मंडपों का भ्रमण करते हुए किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड भी वितरित किये।

विधायक पूरन प्रकाश ने ओलावृष्टि एवं सूखा प्रभावित अनेकों कृषकों को अब तक भी फसल मुआबजा एवं फसल बीमा की राशि न मिलने की समस्यायें रखी और सड़क, बिजली, पानी जैसे बिन्दुओं पर सकारात्मक प्रयास किये जाने के साथ विश्वविद्यालय की ओर से किसानों के पशुओं को भी सुविधाओं का लाभ दिलाने की मांग की।

Related Posts: