नई दिल्ली. सरकार एलपीजी की तर्ज पर ही किसानों को डीबीटी के जरिये फर्टिलाइजर सब्सिडी दिए जाने पर विचार कर रही है। केमिकल एंड फर्टिलाइजर मिनिस्टर अनंत कुमार ने कहा कि देश में फर्टिलाइजर्स की कोई कमी नहीं है। फर्टिलाइजर्स के डिस्ट्रीब्यूशन में आने वाली कोई भी समस्या राज्य सरकारों की जवाबदेही है।

उन्होंने कहा, सभी किसानों को डायरेक्ट सब्सिडी ट्रांसफर दिए जाने के प्रस्ताव पर सरकार गंभीरता से विचार कर रही है और जल्द ही इस दिशा में कदम बढ़ाया जाएगा। सभी किसानों को सीधे सब्सिडी ट्रांसफर करने पर सरकार विचार कर रही है।

फर्टिलाइजर्स की सप्लाई में कमी की चिंता को लेकर उन्होंने कहा, देश में फर्टिलाइजर्स की कोई कमी नहीं है। कुछ राज्यों में डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम को लेकर समस्याएं हैं। अगर ऐसी कोई समस्या है तो यह राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है। जब उत्तर प्रदेश के कुछ सांसदों ने राज्य में फर्टिलाइजर्स की कमी को लेकर चिंता जताई तो उन्होंने कहा, अगर कहीं इसकी कालाबाजारी हो रही है तो उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार से इस बारे में पूछना चाहिए। समाजवादी पार्टी सहित विपक्षी दलों ने सरकार के इस बयान का जबरदस्त विरोध किया।

Related Posts: