मुख्यमंत्री चौहान ने किया 10 लाख 21 हजार किसानों को लाभान्वित

  • समर्थन मूल्य से अधिक पर गेहूँ बिकने पर भी मिलेगी निर्धारित राशि
  • कृषि उत्पादों के निर्यात के लिये बनाई जायेगी राज्य स्तरीय संस्था

भोपाल/शाजापुर,

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत दिलाने के लिये मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना लागू की गई है.

इसमें समर्थन मूल्य पर अथवा उससे अधिक मूल्य पर गेहूँ बिकने पर 265 रूपये प्रति क्विंटल, चना, मसूर, सरसों पर 100 रूपये प्रति क्विंटल तथा लहसुन पर 800 रूपये प्रति क्विंटल किसान के खाते में डाले जायेंगे.

मुख्यमंत्री चौहान सोमवार को शाजापुर में आयोजित किसान महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. कार्यक्रम में 10 लाख 21 हजार किसानों के बैंक खातों में 1669 करोड़ रूपये ऑनलाईन डाले गये. यह राशि गेहूँ उपार्जन वर्ष 2016-17 और धान उपार्जन वर्ष 2017 पर 200 रूपये प्रति क्विंटल की दर से दी गयी.

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि किसानों को उनके उत्पाद का उचित मूल्य दिलाने के लिये खाद्य प्रसंस्करण और कृषि के विविधीकरण के लिये प्रोत्साहित किया जायेगा. कृषि उत्पाद के निर्यात के लिये इसी वर्ष राज्य स्तरीय संस्था बनाई जायेगी. उन्होंने कहा कि देश के संसाधनों पर किसानों का हक है. किसानों की समस्याओं के नाम पर राजनीति नहीं की जाना चाहिये. किसान इस तरह के षडय़ंत्रों से सावधान रहे.

उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में नगदी की कमी पैदा की जा रही है, इससे राज्य सरकार निपटेगी. किसानों को कोई भी दिक्कत हो तो मुख्यमंत्री निवास पर स्थापित कंट्रोल रूम के फोन नम्बर-0755-2540500 पर फोन करें. चौहान ने कहा कि खेती किसानी में प्रदेश को आगे बढ़ाने में राज्य सरकार के साथ सहयोग करें. मुख्यमंत्री ने प्रदेश को विकसित राज्यों में अग्रणी प्रदेश बनाने का संकल्प दोहराया.

Related Posts: