kejriwalनयी दिल्ली,  केन्द्र के साथ जुबानी जंग जारी रखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज उपराज्यपाल नजीब जंग पर मंत्रियों और वरिष्ठ नौकरशाहों की जासूसी करने के आरोप लगाये ।

श्री केजरीवाल ने यह भी आरोप लगाया कि उपराज्यपाल गोपनीय तरीके से प्रधानमंत्री कार्यालय को सूचनाएं भेज रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा “ हैरान करने वाली बात है कि एलजी मुख्यमंत्री और मंत्रियों के यहां आने वालों की जासूसी कर रहे है। एलजी गोपनीय तरीके से यह सूचनाएं पीएमओ के लिए जुटा रहे है। ”

मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह को एक पत्र भी लिखा है जिसमें उन्होंने दिल्ली सरकार में काम कर रहे है अधिकारियों और परामर्शदाताओं के बारे में जानकारी मांगे जाने का उल्लेख किया है । पत्र में लिखा है प्रधानमंत्री दिल्ली सरकार में इतनी रूचि लेते है इसकी मुझे खुशी है। प्रधानमंत्री का काफी समय विदेशों में बितता है पर जब वह देश मेंं होते है तो उनका अधिकांश समय दिल्ली सरकार के कामों के विषय में बितता है।

श्री केजरीवाल ने लिखा है “ मैंने कई कानूनी विशेषज्ञों से सलाह ली है। उनका मानना है कि संविधान और कानून के अनुसार आपको यह सूचना अधिकारवश मांगने का अधिकार नहीं है । केन्द्र सरकार किसी भी राज्य सरकार को पत्र लिखकर कोई सूचना मांग सकती है । वैसे ही जैसे कोई भी राज्य सरकार केन्द्र सरकार को पत्र लिखकर सूचना मांग सकती है ।

पत्र में यह पूछा गया है कि दिल्ली सरकार में ऐसी कौन सी भारतीय प्रशासनिक सेवा की पोस्ट है जिनपर अन्य अधिकारी काम कर रहे है । मेरी समझ से पूरी दिल्ली सरकार में दो-चार से अधिक ऐसे अधिकारी नहीं होंगे । मुझे पूरी उम्मीद है कि केन्द्र ने इस तरह की जानकारी शिवराज चौहान, चन्द्र बाबू नायडू, वसुंधरा राजे और देवेन्द्र फडणवीस से भी मांगी होगी । वहां क्या स्थिति है । जब आप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो आपके समय ऐसे कितने अधिकारी होते थे। मुझे बताया गया है कि इनमें से हर राज्य में कई सौ ऐसे अधिकारी होते है। पर यदि आप राज्यवार यह संख्या मुझे भेजेंगे तो आपकी अति कृपा होगी ।