घर पर ताला, झुलसी महिला को लेकर पूरा परिवार फरार

नवभारत न्यूज मुरैना,

शहर की वनखण्डी रोड स्थित चतुरदास बाबा की गली मेंं शुक्रवार की सुबह पति सहित ससुरालीजनों ने केरोसिन छिड़ककर महिला को जिंदा जला दिया. घटना के बाद पीडि़त महिला सहित पूरा परिवार फरार है. सूने घर पर ताला लगा हुआ है.

सिटी कोतवाली में पुलिस के समक्ष फरियाद लेकर पहुंचें विकास परिहार निवासी जौरा रोड ने पुलिस ने बताया कि उसकी मौसेरी बहन गुड्डी पत्नी सुरेश सिंह सिकरवार 42 साल वनखण्डी रोड स्थित चतुरदास बाबा की गली में रहती है.

गुड्डी के घर के पास ही उसके मामा रामबरन की बहू भी रहती है. मामा रामबरन शुक्रवार की सुबह करीब आठ बजे अपनी बहू के घर दूध देने पहुंचा था. तभी उसे पता चला कि उसकी भांजी गुड्डी को पति सहित ससुरालीजनों ने केरोसिन छिड़ककर जिंदा जला दिया है.

जिसके बाद घर पर ताला लगाकर पूरा परिवार फरार है. रामबरन ने गुड्डी की मौसी सहित मायके पक्ष के लोगों को सूचना दी. उनके द्वारा मुरैना और ग्वालियर के सभी सरकारी एवं प्राईवेट अस्पतालों में गुड्डी की तलाश की गई,जब देर शाम तक उसका कहीं भी पता नहीं चला, तब वे रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कोतवाली पहुुंचें. खबर लिखे जाने तक पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया था. ना ही गुड्डी और उसके ससुरालीजनों का पता चल सका था.

फौजी पति एक साल से कर रहा था प्रताडि़त

गुड्डी के मौसेरे भाई विकास ने बताया कि पति सुरेश आर्मी में है और इन दिनों छुट्टी लेकर घर पहुुंचा हुआ है. सुरेश द्वारा गुड्डी को विगत एक साल से मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताडि़त किया जा रहा था.
गुड्डी को दो पुत्री नीलू 21, उपासना 17 साल और एक पुत्र सोनू 14 साल है. नीलू की शादी हो चुकी है. इन दिनों वह अपनी मां के पास आई हुई थी.

 

Related Posts: