bpl2भोपाल,  अशोका गार्डन पुलिस क्रेडिट कार्ड क्लोनिंग करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है.

आरोपी लोगों के क्रेडिट कार्ड स्केन कर ब्रांडेड सामानों की खरीददारी करते थे. आरोपियों द्वारा बड़े पैमाने पर क्रेडिट कार्ड की क्लोनिंग की गई है. पुलिस ने आरोपियों के पास से 16 अलग अलग कंपनियों के क्रेडिट कार्ड , एक क्रेडिट कार्ड रीडर, राइटर डिवाइस और एक इडीसी मशीन बरामद की है. थाना प्रभारी मनीष मिश्रा के मुताबिक मुखबिर से सूचना मिली थी मुंबई से आए तीन संदिग्ध भोपाल में बड़ी मात्रा में क्रेडिट कार्ड लिए घूम रहे हैं.

वहीं उक्त क्रेडिट कार्ड के माध्यम से संदिग्ध खरीददारी भी कर रहे हैं. सूचना के आधार पर पुलिस ने सब्जी मंडी पर इनोवा वाहन रोककर तीन संदिग्ध युवकों से पूछताछ की. पूछताछ में संदिग्धों ने अपना नाम इमरान उर्फ माजिद 32 वर्ष निवासी ईस्ट मीरा रोड मुंबई, कलाम खान पिता उस्मान खान 32 वर्ष निवासी ईस्ट मीरा रोड मुंबई और रितेश अग्रवाल पिता रवि अग्रवाल निवासी विजय पार्क मुंबई बताया.

हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो आरोपियों ने बताया कि उनकी गैंग का सरगना इमरान है. जिसने नाइजीरियन से क्रेडिट कार्डस्केनिंग का काम सीखा था. वहीं क्रेडिट कार्डरीडर डिवाइस भी उसी नाइजीरियन से खरीदा था. आरोपियों का कहना है कि उन्होने भोपाल, हैदराबाद, बंगलोर, चेन्नई सहित अनेक शहरों से महंगे ब्रांडेड जूते, कपड़े, टायरों की खरीददारी की है. आरोपी कुछ सामान खुद प्रयोग करते थे बाकि सामान मंबुई में बेचकर नगत प्राप्त कर लेते थे.

Related Posts: