विराट कोहली ड्रा छूटे मैच में भी बना गए रिकार्ड, लगाया शतक, श्रीलंकाई टीम हारते-हारते बची

कोलकाता, भारतीय रन मशीन विराट कोहली ने नाबाद 104 रन बनाने के बाद भारत की दूसरी पारी घोषित कर श्रीलंका के सामने एक मुश्किल लक्ष्य रखा और एक समय मेहमान टीम के पहले क्रिकेट टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन आज सात विकेट 75 रन तक झटक लिये. लेकिन खराब रौशनी के कारण खेल समाप्त करना पड़ा और ईडन गार्डन में पहला टेस्ट ड्रा हो गया.

भारत ने अपनी दूसरी पारी आठ विकेट पर 352 रन पर घोषित कर श्रीलंका के सामने 231 रन का लक्ष्य रखा. श्रीलंकाई टीम ने 26.3 ओवर में अपने सात विकेट 75 रन तक गंवा दिये. भारत के पास ओवर बचे थे लेकिन रौशनी कम हो चुकी थी. अंपायरों के पास मैच को ड्रा घोषित करने के अलावा कोई चारा नहीं बचा था और भारत श्रीलंका के खिलाफ परफेक्ट-10 के करीब आकर दूर रह गया.

भारत ने पिछले श्रीलंका दौरे में अपने सभी नौ मैच जीते थे. यहां मैच के लगभग चार दिन तक भारतीय टीम पिछड़ी रही थी लेकिन आखिरी दिन उसने सारे पासे पलटते हुये दिखाया कि वह आखिर क्यों विश्व की नंबर-एक टीम है. भारत को कुछ और ओवर मिलते तो वह निश्चित ही मैच को जीत जाता.

भारतीय तेज गेंदबाज तिकड़ी भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी और उमेश यादव ने श्रीलंका को दूसरी पारी में लगातार बैकफुट पर रखा. जिस हिसाब से श्रीलंका के विकेट गिर रहे थे उसे देखते हुये मैच उसके हाथ से फिसल रहा था. लेकिन श्रीलंका को शुक्रगुजार होना होगा खराब रौशनी का जिसने उसे भारत के खिलाफ लगातार 10वीं हार से बचा लिया.

कप्तान विराट ने पारी समाप्त कर मैच को अचानक ही बेहद रोमांचक बना दिया. हालांकि यह सवाल उठ सकता है कि अगर विराट ने कुछ पहले पारी घोषित की हेाती तो भारतीय गेंदबाजों को ज्यादा ओवर मिल सकते थे. लेकिन विराट ने पहले अपनी टीम को सुरक्षित किया और फिर गेंदबाजों के दम पर मैच को रोमांचक बना दिया. भुवनेश्वर ने सदीरा समरविक्रमा को पहले ओवर की छठी गेंद पर बोल्ड कर दिया.

दिमुथ करूणारत्ने चौथे ओवर में शमी का शिकार बन गये. लाहिरू तिरिमाने नौवें ओवर में भुवी की गेंद पर अजिंक्या रहाणे को कैच थमा बैठे. यादव ने 12वें ओवर में एंजेलो मैथ्यूज को पगबाधा कर दिया. श्रीलंका के चार विकेट 22 रन तक गिर गये.

कप्तान दिनेश चांडीमल (20) और विकेटकीपर निरोशन डिकवेला (27) ने पांचवें विकेट के लिये 47 रन की साझेदारी कर अपनी टीम को कुछ हद तक उबार लिया. लेकिन इसके बाद श्रीलंका ने मात्र छह रन के अंतराल में चांडीमल, डिकवेला और दिलरूवान के विकेट गंवा दिये.

भुवनेश्वर ने डिकवेला और परेरा को आउट किया जबकि शमी ने चांडीमल का विकेट लिया. भुवनेश्वर ने 11 ओवर में आठ रन पर चार विकेट, शमी ने 34 रन पर दो विकेट और यादव ने 25 रन पर एक विकेट लिया. अंत में मैच ड्रा समाप्त रहा और दिन की समाप्ति पर भारतीय खिलाड़ी गर्व से सिर उठाये मैदान से बाहर निकले.

कप्तान विराट कोहली(नाबाद 104) रन की बेहतरीन शतकीय पारी के साथ ही भारतीय क्रिकेट टीम ने श्रीलंका के खिलाफ उतार चढ़ाव से भरे हुये पहले क्रिकेट टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन आज 230 रन की बढ़त मिलने के साथ ही अपनी पारी को घोषित कर दिया.

भारत ने अपनी दूसरी पारी में 88.4 ओवर में आठ विकेट पर 352 रन का मजबूत स्कोर बनाया. उसे दो विकेट शेष रहते 230 रन की बड़ी बढ़त हाथ लगी और इसी के साथ कप्तान विराट ने पारी घोषित करते हुये श्रीलंका के सामने जीत के लिये लक्ष्य रख दिया.

पहली पारी में बिना खाता खोले ही आउट हो गये स्टार खिलाड़ी विराट ने इस बार अपने कद के अनुरूप प्रदर्शन किया और 119 गेंदों में 12 चौके और दो छकके लगाकर नाबाद 104 रन की शतकीय पारी खेली. विराट ने 119 गेंदों में अपने 100 रन पूरे किये और टीम के सात बल्लेबाजों के साथ अहम साझेदारियां भी कीं.

विराट ने भुवनेश्वर के साथ आठवें विकेट के लिये 40 रन और नौवें विकेट के लिये मोहम्मद शमी के साथ 31 रन की अविजित साझेदारियां करते हुये भारत को अहम बढ़त तक पहुंचाया. कप्तान विराट का यह 61वें टेस्ट मैच में 18वां शतक है.

लंच तक भारतीय टीम पांच विकेट पर 251 रन बना चुकी थी और तब विराट 41 और रविचंद्रन अश्विन शून्य पर क्रीज पर थे और टीम के पास 129 रन की बढ़त थी. विराट ने लंच के बाद एक छोर पर लगातार अंतराल पर गिरते हुये विकेटों के बीच अपनी साहसिक पारी को जारी रखा.

अश्विन मात्र सात रन बनाकर आउट हुये जबकि रिद्धिमान साहा भी सस्ते में पांच रन बनाकर आउट हुये. दोनों को दानुस शनाका ने आउट किया.

भुवनेश्वर ने 18 गेंदों में एक चौका लगाकर आठ रन बनाये जबकि शमी 11 गेंदों में दो चौके लगाकर 12 रन पर नाबाद रहे. दूसरे छोर पर विराट ने अपनी धुआंधार पारी को जारी रखा और 119 गेंदों में 12 चौके और दो छक्के लगाकर 104 रन बनाये और शमी के साथ नाबाद पवेलियन लौटे.

उन्होंने भारत को मजबूत 230 रन की बढ़त दिलाने के साथ ही पारी की घोषणा भी कर दी. इससे पहले भारत ने सुबह अपनी पारी को एक विकेट पर 171 रन से आगे बढ़ाना शुरू किया था. बल्लेबाज लोकेश राहुल 73 रन और चेतेश्वर पुजारा (2) रन पर नाबाद थे.

खिली हुई धूप में दोनों बल्लेबाजों ने पारी को आगे बढ़ाते हुये 26 रन जोड़े लेकिन ओपनर राहुल सुरंगा लकमल की गेंद पर बोल्ड होकर जल्द पवेलियन लौट गये और अपने कल के स्कोर में छह रन का ही इजाफा कर सके.

Related Posts: