सिपाही कर रहा था महिला का पीछा

‘परिजनों ने पकड़ा थाने पहुंचा मामला’

नवभारत न्यूज बड़वानी,

आमजन की सुरक्षा के लिए तत्पर रहने वाली खाकी को एक आरक्षक ने शर्मशार किया। यह सिपाही द्वारा खाकी वर्दी पहन महिला का पीछा करना, नाम-पता व मोबाइल नंबर पूछना और इसके बाद तो यात्री बस में एक सीट पर बैठकर उसे परेशान करने लगा।

यह मामला जिला मुख्यालय का है। आखिर परेशान होकर महिला ने यह बात परिजनों को बताई और पुलिस का सिपाही थाने पहुंचा। महिला ने पूछताछ व परेशान करने वाले आरक्षक की शिकायत कोतवाली थाने में दर्ज कराई। फरियादिया ने बताया कि वे समीपस्थ नर्मदा नगर (धार) में रहती है।

पिछले 7 दिनों से वे हेल्थ थेरेपी के लिए बड़वानी यात्री बस में आवाजाही कर रही हूं। बुधवार को वे और उनकी भाभी नर्मदा नगर से बस में बैैठे। इस दौरान धार जिले में डीआरपी लाइन में पदस्थ गंगाराम नामक आरक्षक ने उनसे नाम-पता व मोबाइल नंबर पूछा।

उन्होंने अपना नाम नहीं बताया और मोबाइल नहीं होने की बात कही। इसके बाद बड़वानी बस स्टैंड पर उतरे तो आरक्षक कोर्ट चौराहे तक उनका पीछा करता रहा। वहीं गुरुवार हम गांव से सुबह 10 बजे बस में बैठे तो वहां पहले से ही उक्त सिपाही बैठा था। उसने फिर बुरी नियम से बस स्टैंड से हमारा पीछा करना शुरु कर दिया।

तो माफी मांगने लगा

आखिर सिपाही (आरक्षक) की हरकतों से परेशान होकर उन्होंने यह बात अपने भाई को बताई। जिसके बाद शहर के कोर्ट चौराहे पर उसका विरोध किया। इस दौरान भीड़ जमा होने पर आरक्षक माफी मांगने लगा, लेकिन फरियादिया ने उसकी एक ना सुनी और सीधे शहर कोतवाली पहुंच शिकायत दर्ज कराई।

जानकारी के अनुसार आरक्षक गंगाराम कैदियों को लेने केंद्रीय जेल आया था। फरियादिया की शिकायत पर पुलिस ने आरक्षक के खिलाफ मामला दर्ज कर उसका मेडिकल करवाया। साथ ही मामला जांच में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Related Posts: