khalidनई दिल्ली,  राजद्रोह के आरोपों का सामना कर रहे जेएनयू के छात्र उमर खालिद और अनिर्बान ने दिल्ली पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है. दिल्ली हाई कोर्ट से कोई राहत न मिलने के बाद इन छात्रों के आत्मसमर्पण को तय माना जा रहा था.

इससे पहले जेएनयू कैम्पस की एक सिक्योरिटी कार में उमर खालिद और अनिर्बान को कैम्पस से बाहर लाया गया. उनकी गाड़ी नेल्सन मंडेला रोड पर स्थित ऐम्बियेंस मॉल की तरफ वाले जेएनयू गेट से बाहर निकली.
कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी के बाद से ही उमर और अन्य चार लोग लापता थे लेकिन कुछ समय पहले वे लोग कैम्पस लौट आए थे. सादी वर्दी में तैनात पुलिस उमर और अनिर्बान को नेल्सन मंडेला रोड से अपनी हिरासत में ले लिया.

हालांकि अभी यह पक्के तौर पर नहीं कहा जा सकता कि उन्हें गिरफ्तार किया गया है या फिर वे केवल हिरासत में ही लिए गए हैं. इससे पहले दिल्ली हाई कोर्ट ने देशद्रोह के आरोपी इन दो छात्रों को मंगलवार को समर्पण करने को कहा था और उनको गिरफ्तारी से बचने से कोई राहत देने से इंकार कर दिया था.

गिरफ्तारी से राहत का आदेश देने से इंकार करते हुए अदालत ने कहा था कि दोनों याचिकाकर्ता अपने समर्पण के बारे में तारीख, स्थान और समय का गोपनीय ब्यौरा अदालत को दें और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे. हाई कोर्ट बुधवार को इन दोनों छात्रों की उस याचिका पर सुनवाई करेगी.

Related Posts: