सीहोर,  अपनी नौ सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले दस दिन से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने राष्ट्रपति, राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम पोस्टकार्ड लिखे.

खून को स्याही बनाकर पोस्टकार्ड पर मांगें लिखने वाले इन हड़तालियों ने नियमित नहीं करने की दशा में इच्छामृत्यु की इजाजत मांगी है. बीते दस दिन से नियमितीकरण सहित 9 सूत्रीय मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल में शामिल संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने अब अपने संघर्ष को चरम पर पहुंचा दिया है. अपनी मांगों के पूरा नहीं होने तक हड़ताल पर जमे रहने का बिगुल फूंक चुके कर्मचारियों ने किसी भी हद तक जाने का मन बना लिया है.

आंदोलन के दसवें दिन लगभग पांच सौ संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने अपने शरीर के खून से पोस्टकार्ड लिखे. देश के महामहिम राष्ट्रपति, राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को प्रेषित पोस्टकार्ड में नियमितिकरण सहित अन्य मांगों को पूरा करने की गुहार लगाई गई.

Related Posts: