ओसाका,

भारत के राहिल गंगजी ने अपना 14 साल का खिताबी सूखा रविवार को पैनासोनिक ओपन गोल्फ चैंपियनशिप जीत कर समाप्त कर दिया।

39 वर्षीय गंगजी ने चौथे और अंतिम राउंड में तीन अंडर 68 का कार्ड खेला और कोरिया के ह्यूंगसुंग किम और जुंगगोन ह्वांग पर एक शॉट से जीत हासिल की। गंगजी की आखिरी एशियन टूर खिताबी जीत 2004 में चीन में थी।

गंगजी का चार राउंड का स्कोर 14 अंडर 270 रहा और इस खिताबी जीत से उन्हें 13 लाख 70 हजार डॉलर की पुरस्कार राशि मिली। उन्होंने चार राउंड में 69-65-68-68 के कार्ड खेले।

भारत के शिव कपूर का आखिरी राउंड 75 का रहा लेकिन यह उन्हें पैनासोनिक स्विंग सीरीज जिताने के लिए काफी था जिसके लिए उन्हें 70,000 डॉलर का बोनस पुरस्कार और इस साल यूरोपियन टूर के किसी टूर्नामेंट में खेलने की छूट मिल गयी।

गंगजी को इस जीत से एशियाई टूर में दो साल की छूट और जापान गोल्फ टूर में भी दो साल की छूट मिल गयी। इस टूर्नामेंट से पहले गंगजी पैनासोनिक स्विंग में 84वें स्थान पर थे लेकिन अब वह इसका समापन दूसरे स्थान के साथ करेंगे।

राहिल गंगजी ने अपनी जीत के बाद कहा, “मैंने 14 साल का लम्बा इन्तजार किया। मेरे पास इस दौरान कई बार खिताब जीतने के मौके आये लेकिन मैं उन मौकों को भुना नहीं पाया। मुझे ख़ुशी है कि मेरा इतना लम्बा इन्तजार आज पूरा हो गया और इससे मुझे आगे बढ़ते रहने की प्रेरणा मिलेगी। मैं इसके लिए कैडी, माता-पिता, पत्नी और दोस्तों सभी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने हमेशा मेरा हौसला बनाये रखा।”