Akhilesh_Yadavइलाहाबाद,  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गंगा की सफाई और निर्मलता को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर व्यंग्य किया कि गंगा बोलने से नहीं काम करने से साफ होगी।

श्री यादव ने यहां हाईटेक सरस्वती शहर की आधारशिला रखने के बाद आयोजित सभा में कहा कि गंगा नदी की सफाई बात करने से नहीं होगी। इसके लिए ठोस काम करना होगा। गंगा की सफाई और इसकी अविरलता के लिये अभी तो सिर्फ बात ही हो रही है या बडे दावे किये जा रहे हैं ।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार गंगा की सफाई को लेकर जोरदार प्रचार कर रही है कि इसे कई चरणों में साफ किया जायेगा लेकिन गंगा को समग्रता में देखना होगा । गंगा चरणों या किश्तों में नहीं साफ हो सकती इसे समग्रता में देखना होगा ।गंगा सफाई को लेकर केन्द्र सरकार की योजना पर उनके अपने ही सवाल खडा कर रहे हैं ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मंहगाई का शोर केवल शहरी इलाकों में ही दिखायी दे रहा है। ग्रामीण इलाकों में अभी भी मंहगाई का उतना असर नहीं है। उन्होंने कहा शहरों में आवश्यक वस्तुओं या खाने पीने की चीजें महंगी हैं लेकिन ऊंची कीमतों के बावजूद किसानों के उत्पाद का उन्हें सही दाम नहीं मिल पा रहा है।

Related Posts: