गरीब जनता और जनता जनार्दन की सेवा ही पं. दीनदयाल के लिए विनम्र श्रद्घांजलि

मुख्यमंत्री एवं भाजपा कार्यकर्ताओं ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर श्रद्घांजलि अर्पित की

भोपाल, 25 सितंबर. पं. दीनदयाल उपाध्याय जयंती के अवसर पर लालघाटी चौराहा पर आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर पं. दीनदयाल उपाध्याय प्रतिमा पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, वरिष्ठ नेता कैलाश जोशी, वरिष्ठ मंत्री बाबूलाल गौर ने पुष्पांजलि अर्पित की.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में राज्य सरकार समाज के अंतिम व्यक्ति की खुशहाली के लिए प्रतिबद्घ है. समाज के अनुन्नत वर्ग को समुन्नति के रास्ते पर आगे बढ़ाना ही एकात्म मानव दर्शन की सफल परिणति होगी. गरीब जनता और जनता जनार्दन की सेवा ही पं. दीनदयाल के लिए विनम्र श्रद्घांजलि है.

इस अवसर पर उमाशंकर गुप्ता, सुरेन्द्र नाथ सिंह, ऊषा चतुर्वेदी, ध्रुवनारायण सिंह, रामेश्वर सिंह, आलोक शर्मा, विश्वास सारंग, जितेंद्र डागा, डा. हितेष वाजपेयी, आलोक संजर, रमेश शर्मा प्रदेश और जिले के पदाधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर श्रद्घांजलि अर्पित की.

पं. दीनदयाल उपाध्याय जयंती के अवसर पर प्रदेश कार्यालय पं. दीनदयाल परिसर में एक सहायता केन्द्र का वरिष्ठï नेता गौरीशंकर कौशल ने उद्ïघाटन किया. आई.टी. प्रकोष्ठ द्वारा तैयार की गई आईबुक का विमोचन भी किया गया. आई बुक में मध्यप्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों की जन कल्याणकारी योजनाओं का विवरण और लाभार्थी द्वारा लाभ उठाने के लिए आवेदन प्रपत्र दिये गये है.

आई.टी. प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक विकास बोन्द्रिया ने बताया कि आईबुक से लाभार्थी बिना परिश्रम किये लाभ उठा सकेंगे उक्त अवसर पर ध्रुवनारायण सिंह, रामपाल सिंह, आलोक शर्मा, जितेंद्र डागा, विश्वास सारंग, विजेश लूनावत, आलोक संजर, चेतन सिंह, राजेन्द्र राजपूत, मोहित, गौरव शर्मा, अशोक सिंह, कामता राठी, एल.वी. सिंह, रामप्रकाश बंशकार सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे.

गरीबों के कल्याण के लिए सर्वाधिक योजनाएँ मप्र में
गरीबों के कल्याण के लिए सर्वाधिक योजनाएँ मध्यप्रदेश में चल रही हैं. गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने पं. दीनदयाल जयन्ती के अवसर पर संत रविदास ग्राउण्ड कोटरा सुल्तानाबाद में आयोजित कार्यक्रम में इस बात की चर्चा करते हुए कहा कि इसका उल्लेख रिजर्व बैंक द्वारा जारी एक बुकलेट में भी किया गया है. इसके पहले केरल में गरीबों के कल्याणार्थ सबसे अधिक योजनाएँ चल रही थीं.

गृह मंत्री ने कहा कि पं. दीनदयाल से कहा था कि गरीबों की सेवा ही भगवान की सेवा है. इसी नीति वाक्य को आधार मानकर मध्यप्रदेश सरकार गरीबों के सामाजिक एवं आर्थिक उत्थान के लिए विभिन्न योजनाओं का क्रियान्वयन कर रही है. उन्होंने कहा कि अब गरीब व्यक्ति भी झुग्गी के स्थान पर पक्के मकान में रहेगा. शहर को झुग्गी मुक्त करने के प्रयास किये जा रहे हैं. समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति को मुख्य धारा में लाने के लिए सभी को मिलकर प्रयास करना होगा.

गृह मंत्री ने कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए चलायी जा रही योजनाओं में क्रियान्वयन के लिए पर्याप्त राशि उपलब्ध करायी गयी है. उन्होंने मुख्यमंत्री कल्यादान योजना एवं लाड़ली लक्ष्मी योजना सहित अन्य योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी.

Related Posts: