spo1बेंगलुरु,  दिल्ली के बल्लेबाजों ने बेहद शर्मनाक प्रदर्शन करते हुये विजय हजारे ट्राफी एकदिवसीय क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी टीम को सोमवार को शर्मसार कर दिया और गुजरात ने 139 रन से शानदार जीत हासिल कर पहली बार इस टूर्नामेंट का चैंपियन बनने का गौरव हासिल कर लिया.

गुजरात ने अपने कप्तान पार्थिव पटेल (105) के शानदार शतक की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में 273 रन का मजबूत स्कोर बनाया और दिल्ली की सशक्त बल्लेबाजी को 32.3 ओवर में 134 रन पर ढेर कर दिया. गुजरात की टीम चार वर्षों में इस टूर्नामेंट का अपना पहला फाइनल खेल रही थी और उसने शानदार अंदाज में खिताब जीता जबकि 2012-13 में चैंपियन रही दिल्ली की टीम खिताबी मुकाबले में समर्पण कर गयी. उत्तर प्रदेश के पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने मजबूत लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की टीम को अपने पहले ही स्पैल में चार विकेट लेकर ऐसा झकझोरा कि दिल्ली फिर मुकाबले में वापसी नहीं कर पायी. आरपी ने 10 ओवर में 42 रन देकर चार विकेट झटके जबकि युवा तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुये 9.3 ओवर में 28 रन देकर पांच विकेट हासिल किये.

गुजरात की तरफ से खेल रहे 30 वर्षीय बायें हाथ के तेज गेंदबाज आरपी ने पहली ही गेंद पर रिषभ पंत को बोल्ड किया. उन्होंने पांचवे ओवर में स्टार बल्लेबाज शिखर धवन (5) को निपटाया. खराब दौर से गुजर रहे शिखर मौके के समय फ्लॉप रहे और अपनी टीम को मझधार में छोड़ गये.

आरपी ने फिर कप्तान गौतम गंभीर (9) को निपटाने के बाद मिलिंद कुमार (0) का विकेट भी झटक लिया. आरपी ने 11वें ओवर तक दिल्ली का स्कोर चार विकेट पर 31 रन कर दिया. रही-सही कसर 22 वर्षीय युवा तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने फार्म में चल रहे उन्मुक्त चंद (33) को बोल्ड कर पूरी कर दी.
उन्मुक्त ने 48 गेंदों की अपनी पारी में छह चौके लगाये. बुमराह ने मनन शर्मा (2) को रन आउट करने के बाद नीतीश राणा (12) और सुबोध भाटी (3) के विकेट झटककर दिल्ली का स्कोर 25वें ओवर में आठ विकेट पर 80 रन कर दिया.

हालांकि आठवें नंबर के बल्लेबाज पवन नेगी ने 47 गेंदों में नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 57 रन की अपनी सर्वश्रेष्ठ पारी खेलते हुये दिल्ली को 100 रन से नीचे आउट होने की शर्मिंदगी से बचा लिया. दिल्ली ने इशांत शर्मा को नौवें विकेट के रूप में ठीक 100 के स्कोर पर गंवाया. इशांत को बुमराह ने बोल्ड किया.
इसके बाद नेगी ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुये कुछ बेहतरीन चौके और लेफ्ट आर्म स्पिनर अक्षर पटेल पर छक्का मारकर अपना अर्धशतक पूरा कर लिया. बुमराह ने नेगी को 33वें ओवर की तीसरी गेंद पर आउट कर दिल्ली की पारी 134 रन पर समेट दी. गुजरात के खिलाडिय़ों ने विजय हजारे ट्राफी में अपनी पहली खिताबी जीत का जश्न जमकर मनाया.