Rajnath Singhअफजल गुरू के अवशेष और उनकी चीजों को वापस करने की पीडीपी की मांग को गृह मंत्रालय ने खारिज कर दिया है। मंत्रालय का कहना है कि अफजल के अवशेषों को देने से घाटी में शांति व्यवस्था बनाने में दिक्कत हो सकती है। इस मसले पर आज विपक्ष ने संसद में हंगामा भी किया।

तत्कालीन परिस्थितियों को देखते हुए अफजल को फांसी देकर उसके शव को तिहाड़ जेल में ही दफना दिया गया था। जेल प्रशासन का कहना है कि अब अफजल का शव निकालकर देना संभव नहीं है। अफजल गुरू को संसद पर हमले के मामले में दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी। पीडीपी ने गुरू की फांसी को गलत बताते हुए इसकी निंदा की है।

Related Posts:

सीमावर्ती इलाके से नेपाल को मदद करेगा बिहार : नीतीश
जेटली ने लांच किया असम भाजपा का दृष्टिपत्र
आदर्श हाउसिंग सोसायटी को गिराने का आदेश
एक साल के लिए टला 'नीट', कोर्ट के फैसले का निकाला तोड़, कैबिनेट में मिली अध्यादे...
नोट बंदी से किसानों और शादी वाले परिवारों को राहत देने की घोषणा
सर्वोच्च न्यायालय का केन्द्र को निर्देश, तुरंत लागू करे लोकपाल अधिनियम