नवभारत न्यूज
भोपाल,

अशोका गार्डन थाना अंतर्गत शहंशाह कॉलोनी में रहने वाली 17 वर्षीय छात्रा ने सल्फास की गोलियां खा लीं. घटना के कुछ समय पहले अपने छोटे भाई के साथ मोबाइल पर गेम खेल रही थी.

जैसे ही परिजनों को जानकारी मिली, वे उसे निजी अस्पताल में उपचार के लिए लेकर पहुुंचे, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना में लिया है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक 17 वर्षीय नाबालिग छात्रा शहंशाह कॉलोनी में अपने परिजनों के साथ रहती थी. वह पंजाबी बाग स्थित आरपीएम स्कूल से कक्षा 11वीं की पढ़ाई कर रही थी. उसके पिता अप्सरा टॉकिज के पास सब्जी का ठेला लगाते हैं.

रविवार शाम वह अपने दस वर्षीय छोटे भाई के साथ मोबाइल फोन पर लूडो गेम खेल रही थी. गेम खेलने के कुछ समय बाद छात्रा अंदर कमरे में गई और सल्फास की गोलियां खा ली. पहले तो छात्रा ने किसी को बताया नहीं, लेकिन एक घंटे बाद जब उसे उल्टियां हुई तो बताया कि सल्फास की गोलियां खा ली है.

इसके बाद परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे जहां उसकी मौत हो गई. पुलिस का कहना है कि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि आखिर किन कारणों के चलते छात्रा ने यह कदम उठाया.

पुलिस के मुताबिक छात्रा पढ़ाई मेें कमजोर थी, उसका कुछ समय पहले तो रिजल्ट आया है, वह भी अच्छा नहीं रहा है. पुलिस का कहना है कि हो सकता है कि गेम खेलने के दौरान छोटे भाई से विवाद हुआ हो. पुलिस का कहना है कि मर्ग कामय कर मामले की जांच की जा रही है.

Related Posts: