दार्जिलिंग,  पृथक गोरखालैंड की मांग को लेकर पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में आंदोलनरत गोरखा कार्यकर्ताओं ने वर्ष 2011 में हस्ताक्षरित गोरखालैंड क्षेत्रीय प्रशासन(जीटीए) की आज प्रतियां जलायी और राज्य सरकार के साथ किसी प्रकार के जुड़ाव को खारिज करते हुये कहा कि अब इस आंदोलन को और तेज किया जायेगा।

एक तरफ जहां अर्द्ध-सैनिक बल और पुलिस के जवान सड़कों पर दोनों ओर तैनात थे, वहीं हजारों गोरखा समर्थक चौरास्ता के समीप एकत्र हुए और त्रिपक्षीय जीटीए समझौते की प्रतियाें को आग लगा दी।

इस मौके पर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा ( जीजेएम ) के सहायक सचिव विनय तमांग ने जीटीए समझौते की प्रतियां जलाये जाने की घोषणा की।

Related Posts:

तिरुमला मंदिर को दान में 162 हीरे
मेरी धमकी ने रिहा करवाया गुजराती व्यापारियों को: मोदी
जहरीली शराब से 17 की मौत
सिस्टम को बेहतर बनाने की होनी चाहिए हरसंभव कोशिश : अखिलेश
वाराणसी से पंकज महाराज मथुरा रवाना,“जय गुरु देव” समागम स्थल खाली, स्थिति सामान्य
मोदी ने रखी एम्स की आधारशिला:सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सेना को सराहा