नयी दिल्ली,

जानीमानी अभिनेत्री शबाना आजमी ने फिल्म पद्मावती के निर्माता संजय लीला भंसाली, इसकी नायिका दीपिका पादुकोण तथा इससे संबद्ध अन्य लोगों को मिल रही धमकियों पर देश के पूरे फिल्म उद्योग से गोवा में आयोजित प्रतिष्ठित भारत अंतरराष्ट्रीय फिल्मों महोत्सव(आईएफएफआई) का बहिष्कार करने की अपील की है।

सुश्री आजमी ने आज ट्वीट किया कि पूरी फिल्म इंडस्ट्री को दीपिका पादुकोण, संजय लीला भंसाली तथा ‘पद्मावती’ को मिल रही धमकियों के विरोध में आईएफएफआई का बहिष्कार करना चाहिए।

हर साल आयोजित होने वाला यह प्रतिष्ठित फिल्म समारोह इस बार 20 नवंबर से गोवा में शुरू हो रहा है। श्री राजपूत करणी सेना जैसे कुछ संगठनों ने धमकी दी है कि वे फिल्म पद्मावती को रिलीज नहीं होने देगें। संगठन से जुड़े लोगों ने दीपिका तथा भंसाली को बुरे परिणामों की धमकी भी दी है।

सुश्री आजमी ने कहा कि पद्मावती को लेकर खुलेआम हिंसा की धमकी दी जा रही है और सरकार इस बारे में कोई कदम नहीं उठा रही है।

उन्होंने कहा कि सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी भारतीय फिल्म उद्योग के कठिन परिश्रम और प्रतिभा की बदौलत ही फिल्म महोत्सव में सर्वश्रेष्ठ भारतीय फिल्में प्रदर्शित करने में सफल हुई हैं।

उन्होंने कहा कि श्रीमती ईरानी यह सिर्फ भारतीय फिल्म उद्योग की वजह से कर पा रही हैं लेकिन पद्मावती को लेकर चुप्पी साधे हैं । उन्होंने कहा “यह उसी तरह है जैसे 1989 में सफदर हाशमी की हत्या के बाद दिल्ली में एचकेएल भगत तथा कांग्रेस ने फिल्मोत्व मनाया था।

इस बीच सूत्रों के अनुसार फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने फिल्म पद्मावती फिल्म को कुछ तकनीकी कारणों से वापस इसके निर्माताओं के पास भेज दिया है।

Related Posts: