mp1गुना,  जिला के ग्रामीण अंचल में पेयजल व्यवस्था बिगडऩे के कारण हैजा फैल रहा है. बुधवार को जिला मुख्यालय से महज 5 किमी दूर ग्राम गादेर में दूषित पानी पीने से गांव में हैजा फैल गया. जिसमें एक महिला एवं एक बच्चे की मौत हो गई, वहीं आधा दर्जन से अधिक बीमार जिला अस्पताल में भर्ती हैं.

इसके पूर्व फतेहगढ़ के ग्राम कांसल में दूषित पानी पीने से तीन दर्जन के करीब दर्जन लोग बीमार हो गए थे वहीं एक महिला की मौत हो गई थी. इसके अलावा राघौगढ़ एवं म्याना क्षेत्र के विभिन्न ग्रामों में दूषित पानी पीने से हैजा का प्रकोप फैल गया था. लेकिन तमाम मौतों के बावजूद जिला प्रशासन ने इससे निपटने के लिए कोई प्रभावी कदम नहीं उठाए हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय मात्र 5 किमी दूर ग्राम गादेर में कुंए का दूषित पानी पीने से कक्षा 7 वीं में पढऩे वाला अरूण पुत्र हरनाम सहरिया तथा गांव की एक अन्य महिला रामकली बाई की उल्टी-दस्त के बाद मौत हो गई. वहीं गांव के दर्जनों अन्य ग्रामीण बीमार बताए जाते हैं.

दो मौतों के बाद हरकत में आए जिला प्रशासन ने तुरंत बुधवार की सुबह एक डॉक्टर गांव भेजकर ग्रामीणों का चैकअप कराया. जिसमें आधा दर्जन के करीब गंभीर लोगों को शासकीय वाहन से लाकर जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया है.

Related Posts: