24a15भोपाल, 24 जून. प्रदेश के कुटीर एवं ग्रामोद्योग को विश्वस्तर पर ले जाने के लिए एक जुलाई से ग्रामोद्योग ग्लोबल परियोजना का प्रारंभ किया जा रहा है. हमारा ध्येय है कि उत्पादों की विश्वसनीयता और शुद्वता विश्वस्तरीय हो. यह बात उद्यानिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री कुसुम मेहदेले और प्रमुख सचिव प्रवीर कृष्ण ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही. वे आज होटल प्लास में पत्रकारों से चर्चा कर रही थी. उन्होंने कहा कि हम मप्र उद्यानिकी स्वर्णकांति अभियान भी शुरु करने जा रहे है.

आयोजित कार्यशाला में प्रमुख सचिव प्रवीर कृष्ण ने योजनाओं का प्रजेंटेशन किया. उन्होंने कहा कि ग्रामोद्योग ग्लोबल अभियान के तहत हम उत्पादों की विश्वसनीयता बनाएंगे. हमारा उद्देश्य है कि उत्पादों की विश्वसनीयता और शुद्वता समूचे विश्व में एक अलग पहचान रखे. अमेजन, स्नैपडील और फ्ल्पिकार्ट पर ग्रामोद्योग के प्रॉडक्ट ऑनलाइन उपलब्ध रहेंगे. उन्होंने कहा कि हमारा ध्येय है कि इस योजना के तहत मप्र की समस्त हस्तशिल्प कलाएं एक ही छत के नीचें मिले.

मृगनयनी एम्पोरियम में चंदेरी, महेश्वर, प्राकृतिक शिल्क, कबीरा खादी, माटी शिल्प उपलब्ध रहेंगी. ग्लोबल को क्रियान्वित करने के लिए 450 करोड़ की वित्तीय आवश्यकता हैं जिसमें 200 करोड़ ग्रामीण विकास के बजट से एवं 50 करोड़ हेरीटेज कल्चर से प्रात्त होंगे.भोपाल, ग्वालियर और इंदौर में स्थायी प्रदर्शनी के माध्यम से भी विक्रय किया जाएगा. समस्त केन्द्रों को ऑनलाइन प्रक्रिया से जोड़कर विश्व बाजार से लिंक करने की योजना तैयार कर ली गई है.

Related Posts:

रथ यात्रा मार्ग पर कराया करोड़ों का पेच वर्क
राहुल गांधी की फर्जी प्रोफाइल बनाने वाला गिरफ्तार
साँची दूध के अग्रिम-पत्र धारकों को एक रुपये प्रति लीटर की छूट
सिंहस्थ समागम का देश-विदेश में मोटर साइकिल यात्रा से प्रचार-प्रसार
पब्लिक सेक्टर शुरू होना ऐतिहासिक निर्णय
मीडिया में सही संदर्भों के साथ दें समाचार : श्रीवास्तव