chambalजयपुर,   राजस्थान एवं मध्यप्रदेश में चल रहे वर्षा के दौर के कारण चंबल एवं उसकी सहायक नदियों में जलस्तर बढ़ने के कारण आसपास के गांवों में अलर्ट जारी किया गया है तथा मौसम विभाग ने पूर्वी राजस्थान में कहीं कहीं भारी वर्षा होने की चेतावनी दी है।

मौसम विभाग के अनुसार अगले चौबीस घंटों में पूर्वी राजस्थान में अनेक स्थानों पर तथा पश्चिमी हिस्से में कहीं कहीं मेघ गर्जना के साथ बरसात होने की संभावना व्यक्त की है। राजधानी जयपुर में भी मेघ गर्जना के साथ वर्षा होने की संभावना है।

सूत्रों ने बताया कि आज सुबह आठ बजे तक प्रदेश में सर्वाधिक 23 सेंटीमीटर वर्षा रेलमगरा में दर्ज की गयी है। इसके अलावा मावली 17, कपासन, 10 बूंदी नौ, भरतपुर , भिनाय , हिण्डौली, एवं राजसमंद में सात -सात , भोपाल सागर एवं डेगूं में छह -छह तथा सरवाड़ , नाथद्वारा , चाकसू, विजयनगर , में पांच -पांच सेंटीमीटर वर्षा रिकार्ड की गयी है। इसके अलावा एक से चार सेंटीमीटर के बीच अनेक स्थानों पर वर्षा हुई है।

भरतपुर संवाददाता के अनुसार पिछले दो दिनों से भरतपुर शहर सहित समूचे जिले में अच्छी बरसात हो रही है तथा आज भी भरतपुर एवं उसके आसपास के क्षेत्रों में सुबह से ही झमाझम बारिश होने से लोगो को राहत मिली है। भरतपुर संभाग के धौलपुर जिले में चंबल नदी का जलस्तर खतरे के निशान को छूकर कम होने लगा है लेकिन जिले में चंबल नदी किनारे के गांवों में अलर्ट जारी कर लोगो को सावधान रहने की सलाह दी गयी है। प्रशासनिक अमला भी बाढ़ पर नजर रखे है।

Related Posts: