20as3520as36भोपाल,  दो दिन पहले सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए क दैनिक वेतन भोगी की मौत के बाद नाराज परिजनों और रिश्तेदारों ने गोविंदपुरा थाना के सामने मृतक का शव रखकर चक्का जाम कर दिया. परिजनों का आरोप था कि पुलिस ने घायल की मौत के बाद उसकी एफआईआर दर्ज की. काफी देर चले हंगामें के बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को सड़क से हटाने के लिए लाठीचार्ज कर दिया, शव को अंतिम संस्कार के लिए पुलिस संरक्षण में सुभाष नगर विश्रामघाट ले जाया गया. जानकारी के मुताबिक गोविंदपुरा क्षेत्र स्थित 60 क्वार्टर में रहने वाला जगदीश नामक चालीस साल का युवक दो दिन पहले बाइक से आ रहा था.

वह दैनिक वेतनभोगी था. भेल के गेट नंबर एक के पास एक कार चालक ने उसे टक्कर मारी और गाड़ी लेकर फरार हो गया. जगदीश को गंभीर हालत में एक निजी अस्पताल ले जाया गया. इस बीच पुलिस ने कार चालक के खिलाफ कोई प्रकरण दर्ज नहीं किया. शनिवार की रात जगदीश की उपचार के दौरान मौत हो जाने पर गोविंदपुरा पुलिस ने अज्ञात कार चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया. जगदीश की मौत के बाद उसके परिजन और परिचित एकत्रित होकर रविवार दोपहर गोविंदपुरा थाने पहुंच गए, पुलिस प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए परिजनों ने जमकर नारेबाजी भी की. एक घंटे तक सड़क पर शव रखकर चक्काजाम करते हुए परिजनों को पुलिस ने बार-बार रास्ते से हटने के लिए कहा, लेकिन वे नहीं माने. सड़क पर लगते लंबे जाम को देखते हुए पुलिस ने लाठी चार्ज कर प्रदर्शन कर रहे लोगों को हटाया.