soniaनई दिल्ली,   इशरत जहां पर पूर्व नौकरशाह आरवीएस मणि के खुलासे के बाद उठे सियासी हंगामे के बीच सोनिया गांधी ने बुधवार को पार्टी के सांसदों से कहा कि पूर्व गृह मंत्री पी चिदम्बरम ने अपनी स्थिति पहले ही साफ कर दी है.
सोनिया गांधी ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी को तब से ही निशाना बनाया जा रहा है, जब से वह सत्ता में है. कांग्रेस की एक रणनीतिक बैठक में सोनिया ने कहा, चिदम्बरम जी ने अपनी स्टैंड पहले ही साफ कर दिया है.

हम जब से सत्ता में है, तभी से हमें निशाना बनाया जा रहा है. मणि ने मंगलवार को दावा किया था कि सरकार के दूसरे हलफनामे को उन्होंने ड्राफ्ट नहीं किया था और उन्हें इशरत जहां केस में फाइल पर दस्तखत करने का आदेश दिया गया था. मणि के इस बयान से राजनीतिक तूफान खड़ा होना तय माना जा रहा था और संसद की कार्यवाही में बाधा पडऩे की आशंका भी जताई गई थी.

मणि के खुलासे से पहले पूर्व गृह सचिव जीके पिल्लै ने आरोप लगाया था कि चिदम्बरम ने इशरत जहां केस में उन्हें दरकिनार कर दूसरे हलफनामे को फिर से लिखा. पिल्लै ने यह दावा भी किया है कि इशरत जहां केस में राजनीतिक स्तर पर हलफनामे में बदलाव किए गए थे.

सोमवार को चिदम्बरम ने इस मसले पर अपना रुख साफ करते हुए कहा कि हलफनामे को फिर से देखने की बात पूरी तरह से सही है. उन्होंने यह भी कहा कि मंत्री के हैसियत से हलफनामे की पूरी जिम्मेदारी वह स्वीकार करते हैं.

Related Posts: