भोपाल,

न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी अभिलाष जैन की अदालत ने 3 लाख 86 हजार 757 रुपए के चैक बाउंस के मामले के आरोपी महेश वाजपेयी प्रोपराईटर पारस मोटर्स करोंद भोपाल को दोषी ठहराते हुए छह माह के कारावास और 5 लाख 80 हजार रुपए का प्रतिकर अदा किए जाने की सजा सुनाई है.

परिवादी भोपाल को-ऑपरोटिव सेन्ट्रल बैंक करोंद भोपाल के अधिवक्ता दीपक माहेश्वरी ने बताया कि आरोपी ने बैंक से 3 लाख 86 हजार 757 रुपए का लोन प्राप्त करने के बाद उसकी अदायगी के लिए जो चैक दिए थे.

उन्हें परिवादी ने भुगतान के लिए जब अपने खाते की बैंक में चैक पेश किया तो आरोपी के खाते में पर्याप्त निधि नहीं होने के कारण चैक बाउंस हो गए थे. इस पर उन्होंने आरोपी के खिलाफ जिला अदालत में परिवाद पत्र दायर किया था.

Related Posts: