पुलिस ने गुंडों का निकाला जुलूस

नवभारत न्यूज भोपाल,

गीतांजलि कॉलेज की छात्रा आरती द्धारा छेड़छाड़ से तंग आकर आत्महत्या किए जाने के बाद से राजधानी में पुलिस सक्रिय हो गई है. पुलिस अब मनचलों व गुंडों के विरूद्ध अभियान चला रही है.

बुधवार-गुरूवार की दरम्यिानी रात पुलिस राजधानी की सडक़ों पर उतरी और बदमाशों की धरपकड़ की, वहीं गुरूवार को पुलिस ने गुंडों के जुलूस भी निकाले. लगातार सामने आ रही घटनाओं से पुलिस परेशान दिख रही है. गुरुवार को आईजी जयदीप प्रसाद ने पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग की और आवश्यक दिशा निर्देश दिए. इसके साथ ही पुलिस ने बदमाशों की सूची तैयार कर ली है, इनके यहां से प्राथमिकता के आधार पर अतिक्रमण हटाया जाएगा.

उन्होंंने कहा कि पुलिस अधिकारी इसमें लापरवाही नहीं बरतें. आईजी ने सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया कि वे गुंडों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करवाएं. इसके साथ ही जिला प्रशासन व पुलिस अधिकारियों की बैठक संभाग आयुक्त कार्यालय में हुई, जिसमें तय हुआ कि लंबे समय से फरार चल रहे बदमाश जिन्होंने सरकारी जमीन पर कब्जा किया हुआ है, उन्हें प्राथमिकता से हटाया जाए.

इसकी सूची नगर निगम कमिश्नर को सौंप दी गई है. शनिवार से इसको लेकर कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी. वहीं गौतम नगर थाना प्रभारी मुख्तार कुरैशी को घटना के बाद से हटाए जाने की मांग चल रही थी, उन्हें गुरूवार की शाम वहां से हटाकर राजगढ़ भेज दिया गया है.

जर्नलिज्म की छात्रा से छेड़छाड़ करने वाले आरोपियों का पुलिस ने एमपी नगर में जूलूस निकाला. पुलिस दोनों आरोपियों को लेकर ठीक उसी जगह पर पहुंची, जहां उन्होंने बुधवार की रात को छात्रा से छेड़छाड़ किया था. इस दौरान आरोपियों की पिटाई भी की गई. पुलिस ने छेड़छाड़ करने वाले दोनों आरोपियों को देर रात गिरफ्तार कर लिया था.

गुरुवार को विशाल मेगामार्ट के सामने सुबह 11 बजे आरोपियों का जूलूस निकाला गया. इस दौरान दोनों तरफ लोगों की भारी भीड़ जमा थी. पुलिस ने जुलूस निकालने के बाद दोनों आरोपियों को घटनास्थल लेकर गई और उनसे डेमो कराया. यहां बता दें कि जहां आरिफ को लोगों ने मौके से पकड़ लिया था, वहीं दूसरा मौका पाकर भाग गया था.

पुलिस बल तैनात

एएसपी जोन-3 राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि छात्रा के घर के पास पुलिस बल तैनात किया गया है, उनका कहना है कि अभी आरती के परिजनों ने धमकाने संबंधी कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई है, अगर वे कराते हैं तो धमकाने वालों पर मामला दर्ज किया जाएगा.

पुलिस खंगाल रही सीसीटीवी कैमरे

एएसपी भदौरिया ने बताया कि आरती आत्महत्या मामले में अभी तक 47 लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं, इसके साथ ही गीतांजलि कॉलेज से छात्रा के घर के रूट पर लगे निजी और सरकारी सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले जा रहे हैं. उनका कहना है कि आरोपी को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाए, पुलिस सबूत एकत्रित कर रही है.

Related Posts: