नयी दिल्ली,   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राजनीतिक दलों और नीति निर्धारकों से जनशक्ति की ताकत और सामर्थ्य को पहचान कर देश को नयी उूंचाइयों पर ले जाने का आह्वान किया है ।

श्री मोदी ने संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा ‘मैं निर्णय लेेने की प्रक्रिया में भाग लेने वालों का आह्वान करता हूं कि वे जनशक्ति की ताकत को पहचान करके देश को आगे बढाने का काम करें ।’

उन्होंने अपनी चुटीली शैली में विपक्ष खासकर कांग्रेस पर तीखे प्रहार करते हुए कहा कि यह लोकतंत्र के लिए चिंता का विषय है कि अधिकांश केंद्र एवं राज्य सरकारों ने जनसामान्य की नब्ज को पहचानना छोड दिया था।

सत्तापक्ष की तालियों की गडगडाहट के बीच उन्होंने सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खरगे के भाषण का उल्लेख करते हुए कहा कि श्री खरगे ने कहा है कि कांग्रेस ने लोकतंत्र काे बचाये रखा जिसकी वजह से वह प्रधानमंत्री बन सके हैं ।

श्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस में लोकतंत्र का क्या हाल है इससे सभी भलीभांति वाकिफ हैं । पूरी पार्टी एक परिवार को समर्पित कर दी गयी है । कांग्रेस ने 1975 में देश में आपातकाल लगाकर जयप्रकाश नारायण जैसे महान नेताओं समेत लाखों लोगों को जेल में डाल दिया और प्रेस की आजादी पर ताले जड दिये थे ।

Related Posts: