caमुंबई,  महाराष्ट्र के ठाणे में एक शख्स ने अपनी फैमिली के 14 लोगों का मर्डर कर दिया. इस हत्याकांड में सनसनीखेज सच्चाई सामने आ रही है. शुरुआती जांच के बाद हत्या की एक वजह अंधविश्वास मानी जा रही है.

जांचकर्ताओं के मुताबिक फैमिली के साथ जन्नत की सैर करने की वजह से हसनैन ने पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया. हसनैन अंधविश्वासी था, यह बातें जांच में बार बार सामने आ रही हैं.

हसनैन ने 7 बच्चों और 6 महिलाओं को मारने के बाद आरोपी ने सुसाइड कर लिया. घटना शनिवार रात 12 बजे के बाद घोरबंदर रोड इलाके की है. पुलिस का कहना है कि आरोपी हसनैन वरेकर ने पार्टी के बहाने सबको घर बुलाया था. बेहोश करने के बाद सबका गला रेत दिया. वारदात में घर की एक मेंबर (आरोपी की बहन) बच गई.

हालांकि, पहले यह बताया जा रहा था कि फैमिली से नफरत के चलते आरोपी ने ऐसा किया. उसने दो साल पहले भी ऐसा करने की कोशिश की थी. गोश्त काटने वाले धारदार हथियार से किया मर्डर, खाने में जहर मिलाने का भी शक. फैमिली को मारने वाला हसनैन पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट है.

उधर, घटना कवर करने के लिए सुबह एक न्यूज चैनल का फोटोग्राफर रतन राधेश्याम भौमिक सिविल हॉस्पिटल पहुंचा था. इतने सारे शवों का एक साथ फोटो लेते वक्त उसे दिल का दौरा पड़ा और वहीं उसकी मौत हो गई.

हसनैन ने कैसे किया मर्डर?
ठाणे पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने गोश्त काटने वाले धारदार हथियार से मर्डर किया. मारे गए लोगों के खाने में जहर मिलाए जाने का भी शक है. इसके चलते फैमिली मेंबर बेहोश हो गए. फिर धारदार हथियार से आरोपी ने सबका गला रेत दिया. बाद में उसने खुद भी फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया.

दो साल पहले भी की थी कोशिश
यहां के कॉरपोरेटर मणेरा ने बताया कि दो साल पहले हसनैन किसी तांत्रिक से दवाई के नाम पर कुछ लाया था. उसने वह खाने में मिलाकर पूरे परिवार को खिला दिया था. खाने में जहर की पुष्टि हुई थी. इसके बाद सात लोगों को गंभीर हालत में एडमिट कराया गया था और बमुश्किल इनकी जान बची थी. रविवार को पुलिस की प्राइमरी रिपोर्ट के मुताबिक, हसनैन ने अपने पेरेंट्स और एक सिस्टर से कहा था कि वह सबसे नफरत करता है और एक दिन सबको मार डालेगा.
ठाणे के ज्वाइंट सीपी आशुतोष डूमरे ने कहा, फैमिली में कोई वजह हो सकती है. गांव वालों और रिश्तेदारों से बात की जा रही है. जांच के बाद ही साफ हो पाएगा कि ऐसा क्यों किया.

Related Posts: