आसरा वृद्ध आश्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आश्रम के बुजुर्गों के साथ जन्मदिन मनाया और उनसे आशीर्वाद लिया.

सीएम ने हमीदिया रोड स्थित बाल निकेतन आश्रम में छोटे बच्चों के साथ अपना जन्मदिन मनाया और उनके साथ खुशियां बांटी.भोपाल,

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को अपने जन्म-दिन पर बुजुर्गों का आशीर्वाद लिया और अनाथ बच्चों के साथ आत्मीय क्षण बिताये. पूरे प्रदेश में चौहान के जन्म दिन को सेवा दिवस के रूप में मनाया गया.

समाज के विभिन्न वर्गों, जन-प्रतिनिधियों और गणमान्य नागरिकों ने मुख्यमंत्री निवास पहुंचकर चौहान को जन्म-दिन की बधाई और शुभकामनाएं दीं. नागरिकों ने मुख्यमंत्री के स्वस्थ और सुदीर्घ जीवन की कामना करते हुए उन्हें यशस्वी होने की शुभकामनाएं दीं. इस अवसर पर नागरिकों में अपार उत्साह था.

विभिन्न क्षेत्रों से मुख्यमंत्री के नाम का जयघोष करते हुए युवाओं की टोलियां मुख्यमंत्री निवास पहुंचीं. किसी ने अभिनंदन पत्र भेंट किया, किसी ने साफा पहनाया, तो किसी ने गदा भेंट की. चौहान ने सहजभाव से विनम्रतापूर्वक सभी की शुभकामनाएं स्वीकार कीं. अखिल भारतीय किरार क्षत्रीय महासभा के प्रतिनिधियों ने नव-निर्वाचित अध्यक्ष साधना सिंह चौहान और मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया.

गर्भवती श्रमिक महिलाओं को पौष्टिक आहार के लिये मिलेंगे 4 हजार रुपये : चौहान ने इस मौके पर कहा कि वे हमेशा प्रदेश का विकास और गरीबों की सेवा करते रहेंगे. उन्होंने बताया कि श्रमिक महिलाओं के कल्याण के लिए अप्रैल महीने से एक योजना शुरू की जाएगी जिसमें गर्भवती श्रमिक महिलाओं को 6 महीने के बाद से प्रसव तक के बीच 4 हजार रूपये पौष्टिक आहार के लिए दिये जायेंगे. प्रसव के बाद 12 हजार रूपये दिए जाएंगे.

गरीबों को 200 रुपये प्रति माह के फ्लेट रेट पर मिलेगी बिजली : चौहान ने कहा कि गरीबों को 200 रुपये प्रति माह के फ्लेट रेट पर बिजली मिलेगी. गरीब मजदूरों के बच्चों को पहली कक्षा से लेकर पीएचडी तक की शिक्षा मुफ्त दी जाएगी. उन्होंने कहा कि कोई मजदूर बिना जमीन और बिना आवास के नहीं रहेगा.

वृद्ध आश्रम में बुजुर्गों के साथ मनाया जन्म-दिन

मुख्यमंत्री चौहान अपने जन्म-दिन पर शाहजहाँनाबाद स्थित वृद्ध आश्रम आसरा पहुंचे और बुजुर्गों से आशीर्वाद प्राप्त किया. मुख्यमंत्री ने वृद्धजनों के बीच कुछ आत्मीय क्षण बिताये. उन्होंने आसरा आश्रम में बुजुर्गों की सेवा के लिये वाहन उपलब्ध कराने की घोषणा करते हुए कहा कि बुजुर्गों को बेसहारा नहीं रहने देंगे.

उन्होने बताया कि जो बेटे सरकारी सेवा में हैं और अपने माता-पिता का पालन-पोषण करने की जिम्मेदारी उठाने से बच रहे हैं, उनके वेतन में से उनके माता-पिता को पैसे देने की व्यवस्था की गई है.

चौहान ने बताया कि मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना जैसी धार्मिक योजना बनाई गई है. उन्होंने कहा कि बुजुर्ग समाज की पूंजी हैं, ईश्वर तुल्य हैं, उनकी सेवा मानवता की सच्ची सेवा है. चौहान ने बुजुर्गों के बीच जन्म-दिन का केक काटा और उन्हें चादरें तथा मिठाईयां बाटीं.

प्रधानमंत्री मोदी ने दी शुभकामनाएँ

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को उनके जन्म-दिन पर बधाई और शुभकामनाएं दी हैं. नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट पर अपने शुभकामना संदेश में चौहान के सुखमय, सुदीर्घ और स्वस्थ जीवन की कामना की है.प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संदेश में कहा है कि चौहान की मानवीयता उन्हें समाज के सभी वर्गों के लिये काम करने की प्रेरणा देती है. प्रधानमंत्री ने कहा है कि चौहान के अथक प्रयासों और परिश्रम से मध्यप्रदेश में सकारात्मक बदलाव आया है.

रचनात्मक कार्यक्रम कर कार्यकर्ताओं ने मनाया जन्मदिवस

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के जन्मदिन को प्रदेश भर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने सेवा दिवस के रूप में मनाया. सभी संगठनात्मक 56 जिलों में 833 मंडलों में सुंदरकांड, स्वच्छता अभियान, समरसता भोज के साथ विभिन्न रचनात्मक कार्यक्रम संपन्न हुए.

पार्टी के मोर्चा, प्रकोष्ठ, विभाग एवं प्रकोल्पों द्वारा हितग्राही सम्मेलन, चिकित्सा शिविर एवं प्रबुद्धजनों का स्वागत समारोह का आयोजन किया गया.भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नंदकुमारसिंह चौहान, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के जन्मदिवस पर उनके निवास पर पहुँचकर दीर्घ जीवन और यशस्वी जीवन की कामना की.

राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता, लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह, विधायक सुरेन्द्रनाथ सिंह, भोपाल नगर निगम के महापौर आलोक शर्मा, नगर निगम अध्यक्ष सुरजीत सिंह चौहान, विधायकों और विभिन्न समुदायों के प्रतिनिधि मंडलों, पुलिस महानिदेशक आर के शुक्ला और वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को जन्म-दिन पर बधाई दी.

बाल निकेतन में अनाथ बच्चों के बीच पहुँचे मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री चौहान ने सुबह आराध्य देवों की प्रार्थना के साथ अपने दिन की शुरुआत की. इसके बाद चौहान दोपहर में स्थानीय बाल निकेतन पहुंचे और वहां अनाथ बच्चों के बीच अपने जन्म-दिन की खुशियां बांटीं.

उन्होने बच्चों के साथ केक काटा और उन्हें चादरें तथा मिठाई वितरित कीं. चौहान ने कहा कि बाल निकेतन जैसी संस्थाओं में पढऩे वाले बच्चों को यदि मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज अथवा अन्य किसी उच्च शिक्षा संस्थाओं में प्रवेश मिलता है, तो उनकी शिक्षा का पूरा खर्च सरकार उठाएगी.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ उनकी धर्मपत्नी साधना सिंह चौहान भी थीं. बच्चों ने चौहान की दीर्घायु की कामना की और उन्हें गुलदस्ते भेंट किये. बच्चों के आग्रह पर चौहान और साधना सिंह चौहान ने बच्चे मन के सच्चे गीत गाया. बच्चों ने आदि शक्ति को समर्पित भजन सुनाये. इस अवसर पर भोपाल नगर निगम के महापौर आलोक शर्मा भी मौजूद थे.

Related Posts:

अविश्वास प्रस्ताव की चर्चा में विजयवर्गीय की टिप्पणी से हंगामा
भोपाल में चौराहों और सड़कों की व्यवस्था होगी दुरुस्त
अनियमितता बरतने वाली संस्थाएं ब्लेक लिस्टेड होंगी
मराठी समाज ने शिवाजी महाराज की जयंती पर निकाली विशाल रैली
मासूम को बनाया हवस का शिकार, अवधपुरी में 10 वर्षीय बच्ची के साथ रेप, तीन संदिग्ध...
पेयजल आपूर्ति पहली प्राथमिकता